मुजफ्फरपुर में मुखिया पति समेत तीन गिरफ्तार:चुनाव जीतकर जुलूस निकालने के दौरान कर रहा था फायरिंग, बन्दूक और पांच गोलियां बरामद

मुजफ्फरपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिरासत में तीनों आरोपित - Dainik Bhaskar
हिरासत में तीनों आरोपित

मुजफ्फरपुर के सकरा प्रखंड में चुनाव और मतगणना सम्पन्न हो चुका है। जीते हुए उम्मीदवार अपने-अपने क्षेत्र में जश्न मना रहे हैं। ऐसा ही एक मामला सकरा प्रखंड के डिहुली इशाक पंचायत में सामने आया है। जब जीत का जश्न मनाने के दौरान सरेआम बन्दूक से फायरिंग की गई। मुखिया पति कृष्णा राम अपनी पत्नी के जीत का जश्न मना रहे थे। फोर व्हीलर में खुद और उनकी पत्नी सवार होकर जीत का जुलूस निकाल रहे थे। साथ में सैकड़ो समर्थक थे।

जुलूस में शामिल एक समर्थक मनोज राय बन्दूक से फायरिंग कर रहा था। इसका किसी ने वीडियो बना लिया और इसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। मामला SSP जयंतकांत के संज्ञान में पहुंचा। उन्होंने फौरन सकरा थानेदार सरोज कुमार को वीडियो का सत्यापन कर कार्रवाई का आदेश दिया।

हथियार के साथ पकड़े गए तीनों
थानेदार ने सत्यापन के बाद छापेमारी की। गांव से मुखिया पति कृष्णा राम, फायरिंग करने वाले मनोज राय और अरबिंद राय को गिरफ्तार किया। मौके से हर्ष फायरिंग में इस्तेमाल बन्दूक और पांच गोलियां भी बरामद की गई। थानेदार ने बताया कि पुलिस के बयान पर FIR दर्ज कर आज तीनों को जेल भेजा जाएगा।

शराब पार्टी करने वाले मुखिया पति अबतक फरार
दो सप्ताह पूर्व सदर थाना क्षेत्र के सुस्ता में एक मुखिया पति शराब की पार्टी कर रहा था। उसके साथ समर्थक और वोटर भी थे। गुप्त सूचना पर पुलिस ने छापेमारी की थी। लेकिन, मुखिया पति फरार हो गया। उसके पांच समर्थकों को गिरफ्तार किया गया था। अबतक पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर सकी है। जबकि स्थानीय लोगों की मानें तो वह अपनी पत्नी के लिए इलाके में घूम-घूमकर प्रचार कर रहा है। पुलिस इससे अनभिज्ञ है या जानबूझकर अनभिज्ञता जाहिर कर रही है, यह कहना मुश्किल है।

खबरें और भी हैं...