मुजफ्फरपुर PNB लूट मामला:दिसंबर में जेल से छूटा और बैंक लूटने की रची साजिश, लूटेरों के पास से सिर्फ 35 हज़ार मिले

मुजफ्फरपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुजफ्फरपुर PNB लूट मामला। - Dainik Bhaskar
मुजफ्फरपुर PNB लूट मामला।

मुजफ्फरपुर के सरैया थाना क्षेत्र के बसैठा में PNB ब्रांच से 6.24 लाख रुपए लूटने वाले अपराधी गिरोह ने पटना से लेकर वैशाली और शिवहर तक उत्पात मचा रखा है। कई बार जेल जाने के बावजूद घटना को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहा था। मुजफ्फरपुर पुलिस की विशेष टीम ने PNB ब्रांच लूटकांड का उद्भेदन कर लिया है। गिरफ्तार लूटेरा वैशाली हाजीपुर का पंकज ठाकुर पटना में लूटकांड की बड़ी वारदात को अंजाम दे चुका है। उसके अलावा मीनापुर तुर्की का विकास राय है, जिसने हाजीपुर, मुजफ्फरपुर और शिवहर में उत्पात मचा रखा था। वह कई बार जेल भी जा चुका है। लेकिन, जैसे ही जेल से निकलता है। एक दूसरी वारदात को अंजाम देता है।

इस बार भी वह 14 दिसम्बर को हाजीपुर जेल सें जमानत पर निकला था। इसी के बाद अपना गिरोह के लड़कों को बुलाया। इसके बाद PNB लूटकांड की घटना को अंजाम दिया। SSP जयंतकांत ने प्रेस वार्ता कर इसकी जानकारी दी।

पांच लूटेरे गिरफ्तार

पंकज और विकास के अलावा करजा का गोलू कुमार, ब्रह्मपुरा का राजकुमार और करजा का विकाश सहनी शामिल है। इनके पास से पांच पिस्तौल, तीन मैगजीन, 10 गोली और टीम खोखा, एक किलोग्राम गांजा, 15 पुड़िया स्मैक और बाइक बरामद हुआ। इसके अलावा एक बाइक का नम्बर प्लेट भी मिला है। लेकिन, लूट की राशि मे सिर्फ 35 हज़ार रुपये ही पुलिस बरामद कर सकी है।

SDPO राजेश शर्मा ने बताया कि दो लूटेरे अभी फरार हैं। जिसमे एक मुजफ्फरपुर का है दूसरा अन्य जिले का। ये दोनों ही लूट की राशि लेकर फरार हैं। इनकी गिरफ्तारी को लेकर टीम छापेमरी कर रही है।

खबरें और भी हैं...