मुजफ्फरपुर को पथ निर्माण मंत्री ने दिया सौगात:नीतिन नवीन बोले- अतरार से बभनगामा तक बनेगा ब्रिज, रिंग रोड का भेजा जा रहा प्रस्ताव

मुजफ्फरपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पथ निर्माण विभाग के मंत्री नीतिन नवीन और भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री रामसूरत राय। - Dainik Bhaskar
पथ निर्माण विभाग के मंत्री नीतिन नवीन और भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री रामसूरत राय।

मुजफ्फरपुर को पथ निर्माण विभाग के मंत्री नीतिन नवीन ने सौगात दिया है। उन्होंने जिले में ब्रिज और रिंग रोड निर्माण की बात कही। कई वर्षों से औराई प्रखण्ड की जनता इस आस में थी कि- कब ब्रिज का निर्माण होगा और आवागमन का आसान बनेगा। जिले में शनिवार को मंत्री ने समीक्षा की। इस दौरान भूमि सुधार एवं राजस्व मंत्री रामसूरत राय और BJP जिलाध्यक्ष रंजन कुमार मौजूद रहे। पथ निर्माण विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। कई बिन्दुओं पर समीक्षा भी हुई।

समीक्षा बैठक के बाद उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि औराई प्रखण्ड स्थित अतरार से बभनगामा तक ब्रिज का निर्माण किया जाएगा। इसके अलावा मुजफ्फरपुर का अपना रिंग रोड हो। इसपर भी विचार हुआ है। कांटी, बखरी, दिघरा होते NH-57 तक रिंग रोड बनेगा। इसका DPR तैयार कर केंद्र को प्रस्ताव भेजा जा रहा है। इसके साथ जगन्नाथ मिश्रा पथ में ब्रिज को लेकर जो पेच फंसा हुआ था। उसे भी क्लियर किया जा रहा है। भूमि अधिग्रहण की समस्या के कारण निर्माण कार्य अटका हुआ था। इस बिंदु पर चर्चा हुई है। पुल निर्माण विभाग के अधिकारियों ने अश्वासन दिया है कि अप्रैल तक कार्य पूरा हो जाएगा। शहर में जो नाला निर्माण हो रहा है। उसमें गुणवत्ता का पूरा ख्याल रखा जाएगा। साथ ही सड़क के चौड़ीकरण पर भी विशेष ध्यान रखने को कहा गया है।

ब्रिज हेल्थ कार्ड बनेगा
मंत्री ने कहा कि आगामी वित्तीय वर्ष से ब्रिज हेल्थ कार्ड भी जारी किया जाएगा। बिहार में ब्रिज मेंटेंस पॉलिसी इसके लिए लाने की योजना है। ताकि ब्रिजों की तकनीक और गुणवत्ता को समय-समय आकलन किया जा सके। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का जो मिशन है कि किसी भी शहर से पटना पांच घन्टे में पहुँचा जा सके। उसकी भी तैयारी चल रही है। हर 40 किलोमीटर पर फोरलेन निर्माण की योजना है।

अयोध्या से जनकपुर तक फोरलेन
मंत्री ने कहा कि अयोध्या से माता सीता की नगरी जनकपुर तक 2 लेन सड़क था। इसी पर काम चल रहा था। लेकिन, उन्होंने इसे फोरलेन करने का निर्णय लिया। इसपर केंद्रीय मंत्री को प्रस्ताव भी भेजा गया था। जो स्वीकृत हो चुका है। इसपर शीघ्र काम शुरू हो जाएगा। अब अयोध्या से जनकपुर तक फोरलेन सड़क का निर्माण होगा।