कोलकाता में छिपा मुजफ्फरपुर बॉयलर ब्लास्ट का अरोपी!:नूडल्स फैक्ट्री के संचालक और मैनेजर के कोलकाता में होने की आशंका, पकड़ने के लिए SIT रवाना

मुजफ्फरपुर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बॉयलर ब्लास्ट की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
बॉयलर ब्लास्ट की फाइल फोटो।

मुजफ्फरपुर नूडल्स फैक्ट्री में बॉयलर ब्लास्ट कांड के आरोपी फैक्ट्री संचालक विकास मोदी और मैनेजर उदय शंकर के कोलकाता में छिपे होने की आशंका है। उन दोनों को पकड़ने के लिए SIT रवाना हो गयी है। हालांकि इसे गोपनीय रखा गया है। सूत्र बताते हैं कि दोनों के कोलकाता में छिपे होने का सुराग वैज्ञानिक अनुसंधान में लगा है। इसलिए SSP द्वारा गठित SIT कोलकाता रवाना हो गयी है।

बताया जा रहा है कि विकास मोदी की बेला में दो फैक्ट्री है। एक जिसमें बॉयलर विस्फोट हुआ था। दूसरा उससे कुछ दूरी पर स्नैक्स फैक्ट्री है। उसमें भी ताला बंद है। हालांकि थानेदार कुंदन कुमार ने उस फैक्ट्री में काम करने वाले वर्करों के बारे में पता लगाया और मुसहरी से दो वर्कर को हिरासत में लिया गया। लेकिन, दोनों से पूछताछ में कोई खास जानकारी नहीं मिली। इसके बाद दोनों को देर रात छोड़ दिया गया।
अबतक नहीं लिया वारंट
पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर खाक छान रही है। लेकिन, घटना के दो सप्ताह बाद भी एक भी आरोपी का सुराग पुलिस या SIT को नहीं मिला है। उत्तर बिहार के सभी जिलों और बॉर्डर इलाकों में छापेमारी की जा चुकी है। पर कोई पता नहीं लगा। अब यह आखिरी उम्मीद की किरण पुलिस को कोलकाता में दिखी है। वहीं अबतक पुलिस ने कोर्ट से वारंट भी नहीं लिया है। जबकि 3 जनवरी को कोर्ट खुलने के बाद वारंट लेने की बात केस के IO कुंदन कुमार ने कही थी।

यह हुई थी घटना
बता दें कि 26 दिसम्बर की सुबह नूडल्स फैक्ट्री में बॉयलर विस्फोट हुआ था। इस घटना में 7 मजदूर की मौके ओर मौत हो गयी थी। वहीं एक दर्जन से अधिक घायल हुए थे। धमाके में बगल के चुरा मील और दैनिक अखबार का प्रिंटिंग प्रेस भी क्षतिग्रस्त हो गया था। मामले में बियाडा के अधिकारी प्रशांत कुमार ने फैक्ट्री मालिक समेत अन्य के खिलाफ FIR दर्ज कराया था। जिसमें बॉयलर मरम्मती में लापरवाही बरतने का आरोप था।