मुजफ्फरपुर में आइसक्रीम फैक्ट्री का कम्प्रेशर मशीन फटा:मौके पर एक मजदूर के शव के उड़ गए चिथड़े, अन्य दो गंभीर रूप से घायल

मुजफ्फरपुर3 महीने पहले
फैक्ट्री में ब्लास्ट के बाद जुटे लोग।

मुजफ्फरपुर जिले के मोतीपुर थाना क्षेत्र के साढ़ा डंबर गांव में एक आइसक्रीम फैक्ट्री (बर्फ) में जोरदार ब्लास्ट हुआ। फैक्ट्री में लगा कम्प्रेशर मशीन तेज धमाके के साथ फट गया। फैक्ट्री की दीवारें और छत के परखच्चे उड़ गए। मौके पर ही काम कर रहे एक मजदूर की मौत हो गई। उसके शव के चिथड़े उड़ गए। वहीं दो अन्य मजदूर गम्भीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें आनन-फानन में हॉस्पिटल ले जाया गया है। मृतक की पहचान स्थानीय शुभ नारायन राय के बेटे मनु कुमार (17) के रूप में हुई। घटना के बाद अफरातफरी का माहौल मच गया। काफी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ गई। सूचना मिलने पर मोतीपुर थानेदार मुकेश कुमार मौके पर पहुंचे। एहतियातन फायर ब्रिगेड की गाड़ी को भी बुलाया गया। शव को फैक्ट्री से निकालकर SKMCH में पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। पुलिस आसपास के लोगों से पूछताछ करने में जुटी है।

तीन किलोमीटर तक सुनाई पड़ा धमाका

स्थानीय युवक कुणाल ने बताया कि धमाका इतना तेज था कि करीब तीन किलोमीटर तक इसकी आवाज सुनाई पड़ी। पूरा इलाका इससे दहल उठा। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि ये फैक्ट्री अवैध रूप से चल रही थी। ग्रामीणों ने कई बार इसका विरोध भी किया था। लेकिन, फैक्ट्री को बंद नहीं किया गया। गांव में घनी आबादी के बीच ये फैक्ट्री चल रही थी। फैक्ट्री संचालक रूपनन्दन राय बताए जा रहे हैं। उनका वहीं पर घर भी है। हालांकि घटना के बाद से उनके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।

जबरन बुलाकर ले जाता था

मृतक मनु के पिता और मां ने कहा कि उसके बेटे को जबरन बुलाकर फैक्ट्री संचालक ले जाता था। आज भी वह मनु को बुलाकर ले गया था। परिजन का कहना है कि वह फैक्ट्री में काम नहीं करता था। वह वहां पर बैठा रहा होगा। जिस दौरान घटना घटी। हालांकि आसपास के लोग बता रहे हैं मनु उस फैक्ट्री में काम भी करता था।

पांच साल से अधिक से चल रही फैक्ट्री

कुणाल ने बताया कि पांच साल से अधिक से ये फैक्ट्री चल रही है। गुरुवार को शाम में अचानक से जोरदार धमाका हुआ। फैक्ट्री में ब्लास्ट के बाद लोहे का बड़ा-बड़ा टुकड़ा आसपास गिरा। हालांकि स्थानीय किसी लोगों को इससे हताहत नहीं हुआ है।

ठंडा करने का करता काम

बेला औधोगिक क्षेत्र के अधिकारी अनुपम कुमार और विक्रम कुमार ने बताया कि आइसक्रीम फैक्ट्री में कम्प्रेशर मशीन का इस्तेमाल किया जाता है। इससे ठंडा करने का काम होता है। उन्होंने सम्भावना जताई है कि मशीन का मेंटेनेंस लंबे समय से नहीं किया होगा। जिससे इसमें खराबी आ गई होगी। इसी कारण से ये ब्लास्ट हुआ है। इधर, थानेदार मुकेश कुमार ने बताया कि घायल किस हॉस्पिटल में भर्ती हैं। उसका पता किया जा रहा है। घायलों के बयान के आधार पर FIR दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

बेला में बॉयलर फटने से हुई थी सात की मौत

पिछले साल बेला औधोगिक क्षेत्र में नूडल्स फैक्ट्री का बॉयलर फटा था। इसमें सात मजदूरों की मौत हो गयी थी। इस धमाके में आसपास के दो फैक्ट्री भी क्षतिग्रस्त हुए थे। इसके दो महीने बाद मनियारी में प्लास्टिक का डब्बा बनाने वाली फैक्ट्री का कम्प्रेशर मशीन फट गया था। हालांकि इसमें किसी की मौत नहीं हुई थी।