मतदान केंद्रों पर प्रत्याशी समर्थको की दबंगई:मुशहरी प्रखंड के रामदयालु में बूथों पर हंगामा, पुलिस ने पहुंचकर खदेड़ा

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुशहरी प्रखंड में मतदान केंद्र के बाहर लगी QRT जवानों लगी भीड़। - Dainik Bhaskar
मुशहरी प्रखंड में मतदान केंद्र के बाहर लगी QRT जवानों लगी भीड़।

मुजफ्फरपुर में पंचायत चुनाव शुरू होने के दो घंटे बाद तक तो सब कुछ सही रहा। मतदान शांतिपूर्ण तरीके से जारी रहा। लेकिन, समय बीतने के साथ प्रत्याशी और उनके समर्थकों का धैर्य जवाब दे गया। मुशहरी प्रखंड के रामदयालु में बूथ संख्या 13 और 14 पर प्रत्याशियों के समर्थको ने दबंगई दिखाना शुरू कर दिया। वोट डालने जा रहे लोगों को जबरन अपने पक्ष में वोटिंग करने का दबाव दिया जाने लगा। बूथ के बाहर सभी खड़े होकर वोटरों पर दवाब बनाने लगे। पक्ष में वोटिंग नहीं करने पर धमकाया भी जा रहा है।

इस कारण दूसरे पक्ष के समर्थकों से विवाद शुरू हो गया। बूथ पर हल्ला हंगामा होने लगा। इसकी सूचना पर सदर थाना की पुलिस और QRT जवानों ने मौके पर पहुंचकर जमकर लाठियां भांजना शुरू कर दी। गिरते-परते दबंगई दिखाने वाले रेलवे पटरी पर दौड़ते हुए भाग निकले। इसके बाद स्थिति सामान्य हुई। वहां पर फिलहाल टीम निगरानी कर रही है।

इधर, रेवा रोड में बूथ संख्या 101 पर दो प्रत्याशियों के समर्थक आपस मे भीड़ गए। एक दूसरे पर अपने-अपने वोटरों को रिझाने के आरोप लगाने लगे। एक पक्ष का कहना था की दूसरे पक्ष के समर्थक बूथ पर जाकर वोटर को रिझा रहे हैं। वहीं दूसरे पक्ष का कहना था की वे लोग सिर्फ बुजुर्ग महिलाओं को मदद करने के लिए गए थे। इसी बात को लेकर जमकर हंगामा हुआ। हालांकि पुलिस फोर्स ने वहां पहुंचकर स्थिति को कंट्रोल में कर लिया।

वहीं बूथ संख्या 30 और 31 पर कुछ समर्थक जबरन अंदर घुस गए थे। पुलिस बल की संख्या कम होने पर उन्हें रोकने में विफल रहे। इसे लेकर वहां भी वोटरों ने ही हंगामा करना शुरू कर दिया। इससे मतदान कार्य भी कुछ देर के लिए बाधित हुआ। सदर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर सभी को खदेड़ दिया। इसके बाद बूथ परिसर में इंट्री वाले मेन गेट को बंद कर दिया गया। तब जाकर शांतिपूर्ण तरीके से मतदान शुरू हुआ।

खबरें और भी हैं...