जहरीली शराब कांड:7 मौत मामले में अभी दियारा के किंगपिन तक नहीं पहुंची पुलिस

मुजफ्फरपुर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बरामद शराब को मनियारी थाने पर उतारती पुलिस। - Dainik Bhaskar
बरामद शराब को मनियारी थाने पर उतारती पुलिस।

सरैया के रुपाैली में जहरीली शराब के कारण 7 लोगों की मौत मामले में अब तक पुलिस शराब सप्लायर तक नहीं पहुंच सकी। पुलिस को आशंका है कि जहरीली शराब की खेप वैशाली के लालगंज सलेमपुर दियारा से आई थी। लेकिन, दियारा में अवैध शराब फैक्ट्री चलाने वाले किंगपिन तक पुलिस नहीं पहुंच पा रही है। उल्लेखनीय है कि सरैया के बाद गोपालगंज और बेतिया में भी जहरीली शराब कांड से मौत हुई है।

इस तरह अब तक उत्तर बिहार में जहरीली शराब पीने से अब तक तीन दर्जन से अधिक माैत की पुष्टि हाे चुकी है। इससे पुलिस मुख्यालय तक हिल गया है। खुफिया अधिकारियों का दावा है कि उनकी नजर दियारा पर है। बेतिया का नौतन क्षेत्र भी दियारा है, जहां जहरीली शराब से शुक्रवार को मौत हुई।

हालांकि, पुलिस गोपालगंज, नौतन और सरैया में जहरीली शराब कांड में सीधा जुड़ाव नहीं मान रही है। सरैया के रुपौली में पंचायत चुनाव में जीत की पार्टी के बाद 5 लोगों की मौत हुई थी। लक्ष्मीपुर अरार में छठी पार्टी शराब मामले में पुलिस सप्लायर तक पुलिस पहुंच चुकी है। वहां जहां होम्योपैथ की दवा मिला शराब बनाई जाती थी।

सरैयागंज टावर के आसपास पांच बड़े तस्कर बेच रहे शराब, एक पर कार्रवाई
उत्पाद विभाग की टीम ने शुक्रवार को सरैयागंज टावर से चंद कदम दूर नूनफर में छापेमारी कर 31 बोतल शराब बरामद कर अपनी पीठ थपथपा ली। जबकि, टावर के आसपास 5 बड़े शराब तस्करों का अड्डा बताया जा रहा है। शिकायत के बाद कार्रवाई नहीं हो रही है। उत्पाद अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार काे गुप्त सूचना पर संजय महतो के घर से पांच कार्टन और 31 बोतल विदेशी शराब जब्त हुई।

संजय महतो फरार हो गया। उसकी गिरफ्तारी काे छापेमारी चल रही है। इधर इसी इलाके के एक पाठक ने दैनिक भास्कर को फाेन कर बताया कि टावर के निकट पांच शराब तस्कर हैं। ये शराब बेचते भी हैं और पिलाते भी हैं। एक जगह कार्रवाई दिखावे के लिए की गई है। उस व्यक्ति ने कहा कि यहां शराब बिक्री की सूचना टाउन पुलिस और उत्पाद अधिकारी को भी दी गई।

लेकिन, बड़ी कार्रवाई नहीं हो सकी। ऐसे में टावर के आसपास भी जहरीली शराब कांड जैसी घटना घट सकती है। उधर, टाउन डीएसपी रामनरेश पासवान ने कहा कि उन्हें ऐसी काेई सूचना नहीं मिली है। इसकी जानकारी लेकर कार्रवाई की जाएगी।

समस्तीपुर जा रही 15 लाख की शराब बरामद, दो गिरफ्तार
पुलिस ने गुरुवार की देर रात वाहन जांच के दौरान समस्तीपुर जा रही भारी मात्रा में विदेशी शराब लदा ट्रक पकड़ा। पीएसआई स्नेहा कुमारी ने अपने टीम के साथ वाहन जांच पड़ताल के दौरान मुजफ्फरपुर की ओर से आ रही एक झारखंड नंबर ट्रक आते देख उसे रोकने की कोशिश की, परंतु वह भागने लगा। जिसे पुलिस ने वाहन से पीछा करते हुए एनएच 28 के भुजंगी चौक पर पकड़ा।

जांच-पड़ताल के दौरान शराब होने की सूचना पर ट्रक समेत चालक व उप चालक को थाना लाया गया। जहां शराब की गिनती की गई, जिसमें झारखंड निर्मित भिन्न-भिन्न प्रकार के छोटे-बड़े बोतलों में रखी 450 लीटर विदेशी शराब बरामद की। शराब लगभग 15 लाख मूल्य की बताई जाती है।

धंधेबाज सह चालक की पहचान झारखंड के सिंहभूमि चाईबासा सदर थाना क्षेत्र के पश्चिम सिंहभूमि चाईबासा निवासी संजय सोनकर व उसी गांव निवासी उपचालक मनोज मल्लो चमला टोला थाना सदर चाईबासा निवासी के रूप में हुई है। थानाध्यक्ष अजय कुमार पासवान ने बताया कि दोनों चालक व उप चालक को न्यायिक हिरासत में भेजा जा चुका है।

विदेशी शराब के साथ महिला गिरफ्तार
मीनापुर | गोरीगामा में गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर पुलिस ने 21 लीटर से अधिक विदेशी शराब बरामद की। मामले में महिला आरोपी प्रियंका देवी को गिरफ्तार कर लिया है। दूसरी ओर गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर मानिकपुर बलुआही के देवेंद्र सहनी के घर से छह लीटर देसी चुलाई शराब बरामद की गई। आरोपी फरार है। जमादार रामचंद्र पंडित के बयान पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

गिरफ्तार तस्कर ने बताए सफेदपोश संरक्षकों के नाम

जीआरपी ने जब्त की 7.6 लीटर चुलाई शराब
मुजफ्फरपुर |
मुजफ्फरपुर, गोपालगंज और बेतिया में शराब पीने के कारण एक सप्ताह में तीन दर्जन से अधिक माैत के बावजूद शहर में भी शराब धड़ल्ले से बिक रही है। शुक्रवार काे जीआरपी ने माड़ीपुर ओवरब्रिज के पास से गैलन और पाउच में ले जाई जा रही चुलाई शराब जब्त कर नौशाद उर्फ नेपाली काे गिरफ्तार कर लिया। उसे पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया। रेल थानाध्यक्ष दिनेश कुमार साहू ने कहा कि गुप्त सूचना के बाद कार्रवाई की गई।

नौशाद उर्फ नेपाली के पास 100 ग्राम के 16, 200 ग्राम के 15 पाउच और एक गैलन से चार लीटर देशी शराब बरामद हुई। उल्लेखनीय है कि पूछताछ में नौशाद ने कई सफेदपोशों का नाम बताया है। उसने चुलाई शराब बनाने की जगह, इस्तेमाल सामग्री और बनाने वाले लाेगाें के बारे में भी जानकारी दी है। उसकी निशानदेही पर जीआरपी छापेमारी कर रही है। थानाध्यक्ष ने बताया कि तस्कर के मोबाइल में सेव नंबर ट्रेस किए जा रहे हैं।

खबरें और भी हैं...