पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Post mortem Of The Dead Body Was Done In The Presence Of The Magistrate, Rohit Turned Out To Be Injured By The Bullet, The Criminals Were Gathered Near The Liner Veerpur School

पुलिस मुठभेड़ में मारा गया था प्रिंस:मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ शव का पोस्टमार्टम, गोली से जख्मी रोहित निकला लाइनर वीरपुर स्कूल के निकट जुटे थे अपराधी

मुजफ्फरपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बैंक परिसर में पूरे दिन पसरा रहा सन्नाटा, जांच को पहुंचते रहे अधिकारी। - Dainik Bhaskar
बैंक परिसर में पूरे दिन पसरा रहा सन्नाटा, जांच को पहुंचते रहे अधिकारी।
  • थानाध्यक्ष के बयान पर हुई बैंक लूट के प्रयास व मुठभेड़ की एफआईआर
  • रूपेश ठाकुर व अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी में जुटी पुलिस

मोतीपुर में बैंक ऑफ बड़ौदा लूटने के प्रयास के दौरान पुलिस मुठभेड़ में मारे गए प्रिंस के शव का पोस्टमार्टम मंगलवार को मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में किया गया। जिसकी वीडियोग्राफी भी कराई गई है। गोली से जख्मी एसकेएमसीएच में भर्ती अपराधियों से पूछताछ में पुलिस ने रोहित को लाइनर करार दिया है।

गोलीबारी में रोहित भी जख्मी होकर मां जानकी अस्पताल में इलाजरत है। पहले रोहित को ग्रामीण बताया जा रहा था। घंटों माथापच्ची के बाद मोतीपुर थाना अध्यक्ष अनिल कुमार के बयान पर बैंक लूट के प्रयास व पुलिस मुठभेड़ की प्राथमिकी थाने में दर्ज कराई गई। एसकेएमसीएच में भर्ती अपराधियों से पूछताछ के आधार पर पुलिस का कहना है कि कांटी के वीरपुर हाईस्कूल के पास पहले अपराधियों की जुटान हुई।

तीन अलग-अलग बाइक से अपराधियों का गैंग वहां से मोतीपुर के पचरुखी स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा को लूटने के लिए निकला। मीनापुर के हरसेर से प्रिंस कुमार स्कूटी से पहुंचा था। बाकी अपराधी ग्लैमर व अपाचे बाइक से आए थे। गिरोह को प्रिंस और धीरज लीड कर रहा था।

एसकेएमसीएच में इलाजरत अपराधियों ने स्वीकार किया कि वे सभी कांटी के शातिर अपराधी रूपेश ठाकुर गैंग से जुड़े हुए हैं। पुलिस की गोली से घायल अपराधी पानापुर ओपी के पानापुर निवासी धीरज कुमार, कांटी थाना के साईन निवासी प्रशांत कुमार, मीनापुर के खरार के मनीष उर्फ बंशल कुमार की चिकित्सा एसकेएमसीएच में पुलिस अभिरक्षा में की जा रही है।

मुठभेड़ में मारा गया अपराधी प्रिंस कुमार सिवाईपट्टी थाना के हरसेर गांव का उमेश राय का पुत्र था। मृतक का छोटा भाई आपराधिक मामले में पहले से जेल मे बंद है। अपराधी प्रशांत कुमार ने पुलिस को बताया कि लाइनर ने जानकारी थी कि बैंक का 40 लाख रूपए लुटना है।

जांच को लेकर बैंक में पूरे दिन ठप रहा कामकाज
मंगलवार को पचरूखी स्थित बैंक ऑफ बड़ाैदा का कामकाज पूरी तरह से ठप रहा। बैंक में किसी प्रकार का कोई लेन-देन तक नहीं हुई। आरएम बी विश्वास ने बैंक पहुंचकर कर्मियों से घटना की जानकारी ली। सुरक्षा के मद्देनजर बैंक के पास चार चौकीदार व दो पुलिस कर्मी को तैनात किया गया है।

विधि विज्ञान प्रयोगशाला की टीम ने भी घटनास्थल पहुंचकर अपराधियों के खून का सैंपल लिया। बैंक के एक कर्मी ने बताया कि बैंक के गेट पर एक अपराधी हथियार लेकर पहुंचा। भीतर प्रवेश करने से पूर्व ही उसने पहले कैश काउंटर पर दो गोलियां चलाई।

शीशा फोड़ते हुए गोली कैशियर विकास कुमार की कनपट्टी होते हुए निकल गई। इसी समय पुलिस पहुंच गई और अंधाधुंध गोली चलने लगी। कैशियर बाल-बाल बच गए। इसके बाद बैंक के सभी कर्मी शौचालय में छिपकर अपनी जान बचा सके।

छोटू सिंह ने मुहैया कराया था हथियार
छोटू सिंह ने बैंक लूटने के लिए उनलोगों को हथियार मुहैया कराया था। पुलिस का कहना है कि शातिर बैंक लुटेरा बिट्टू ठाकुर के जेल जाने के बाद रूपेश ठाकुर ने गिरोह की कमान संभाल ली है। इस गैंग में नए-नए लड़के को रखा जा रहा है।

डीएसपी पूर्वी मनोज पांडे ने तीनों अपराधियों से अलग-अलग पूछताछ की। पुलिस टीम रूपेश ठाकुर की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। एसकेएमसीएच में टाउन डीएसपी राम नरेश पासवान के साथ बड़ी संख्या में पुलिस बल पूरे दिन कैंप करती रही।

खबरें और भी हैं...