राज्य में महज 44.17% स्टूडेंट्स का 9वीं में नामांकन:प्रवेशोत्सव : अभियान में राज्य में 9वीं में 3 लाख 56 हजार 267 स्टूडेंट्स के नामांकन का था लक्ष्य

मुजफ्फरपुर2 महीने पहलेलेखक: प्रशांत कुमार
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

सूबे के हाई स्कूलों व प्लस टू स्कूलों में प्रवेशोत्सव के दौरान 9वीं कक्षा में महज 44.17 फीसदी स्टूडेंट्स यानी 1 लाख 57 हजार 373 स्टूडेंट्स का ही नामांकन हो सका है। अब भी 2 लाख 62 हजार 959 स्टूडेंट्स 9वीं कक्षा में नामांकन से वंचित हैं। वहीं, मुजफ्फरपुर में अभियान में 59 फीसदी स्टूडेंट्स का नामांकन हुआ है। अभियान के तहत जिले में 5838 स्टूडेंट्स का नामांकन लक्षित था। इसमें से 3470 का नामांकन हो सका है।

प्रवेशोत्सव अभियान के दौरान 38 जिलों में 9वीं में 3 लाख 56 हजार 267 स्टूडेंट्स के नामांकन का लक्ष्य रखा गया था। शिक्षा विभाग की ओर से आठवीं उत्तीर्ण स्टूडेंट्स के 9वीं में नामांकन के लिए प्रवेशोत्सव की शुरूआत की गई थी। पहले चरण में 1 से 15 जुलाई और दूसरे चरण में इसे 31 जुलाई तक तक प्रवेशोत्सव चला। पहले चरण में 38 जिलों में 1,18,646 स्टूडेंट्स और दूसरे चरण 38,727 स्टूडेंट्स का नामांकन हुआ।

प्रवेशोत्सव में सबसे अधिक पूर्वी चंपारण में हुए 9118 नामांकन

1 से 31 जुलाई तक चले अभियान में 9वीं में नामांकन में पूर्वी चंपारण जिला अव्वल रहा। यहां सबसे अधिक 9118 छात्र-छात्राओं का नामांकन हुआ है। वहीं सबसे फिसड्डी स्थिति शिवहर की है। यहां केवल 862 स्टूडेंट्स का ही एडमिशन 9वीं क्लास में किया जा सका है। मुजफ्फरपुर में 3470 स्टूडेंट्स का नामांकन प्रवेशोत्सव के दौरान हुआ है। यहां अब भी 2368 स्टूडेंट्स आउट ऑफ स्कूल्स हैं। वहीं पूरे राज्य में अब भी 9वीं में नामांकन से वंचित स्टूडेंट्स की संख्या 262959 है।

तिरहुत प्रमंडल के जिलों की स्थिति
जिला 9वीं में नामांकन बचे हुए प्रवेशोत्सव

मुजफ्फरपुर 85322 2368 3470
पूर्वी चंपारण 80277 19159 9118
पश्चिम चंपारण 57809 6667 7112
सीतामढ़ी 62699 3997 7528
वैशाली 59966 4627 4686
शिवहर 13662 77 862

5 जिलों में 9वीं में दाखिले से वंचित एक भी नहीं

प्रवेशोत्सव में निर्धारित लक्ष्य को 5 जिलों अरवल, भोजपुर, नालंदा, रोहतास और सीवान ने पूरा कर लिया है। यहां अब एक भी बच्चा 9वीं कक्षा में नामांकन से वंचित नहीं है।

खबरें और भी हैं...