पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शिकायत:एंटीजन किट कालाबाजारी मामले में आरडीडीएच ने बिंदुवार मांगी रिपोर्ट

मुजफ्फरपुर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नामजद अभियुक्त होने पर भी अस्पताल प्रबंधक कर रहे काम

एंटीजन किट कालाबजारी मामले में अपर क्षेत्रीय स्वास्थ्य निदेशक (आरडीडीएच) डाॅ. राजेश सहाय वर्मा एक्शन में हैं। सदर अस्पताल के निरीक्षण के क्रम में उन्हें शिकायत मिली कि पिछले दिनों एंटीजन की कालाबाजारी में सकरा पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की है। बड़े पैमाने पर एंटीजन किट जब्त कर पांच लैब टेक्नीशियन को जेल भेजा। सदर अस्पताल के प्रबंधक प्रवीण कुमार व सरैया सीएचसी का लैब टेक्नीशियन अमितेश पुलिस की नजर में फरार लेकिन काम कर रहे हैं। आरडीडीएच ने सीएस डाॅ. विनय शर्मा से इस संबंध में रिपोर्ट मांगी है। पूछा है कि सीएस स्तर से टीम बना जांच की गई या नहीं।

अगर जांच हुई तो रिपोर्ट क्या थी। इन सभी बिंदुओं पर विस्तृत रिपोर्ट 2 दिनों में मिलने पर आगे कार्रवाई की जाएगी। कहा- यह गंभीर मामला है कि नामजद आरोपी काम कर रहा हो। अगर ऐसा है तो अविलंब एक्शन होगा। इस बीच सकरा थानाध्यक्ष सतीश सुमन जब्त एंटीजन किट के सत्यापन के लिए लगातार सीएस कार्यालय से संपर्क में हैं। उन्हाेंने दो बार पत्र लिखा, लेकिन अब तक ड्रग इंस्पेक्टर व जवाबदेह अधिकारी सत्यापन नहीं कर सके। उन्हाेंने मामले में वरीय अधिकारी को भी जानकारी दी है।

लैब टेक्नीशियन के घर से 4 हजार किट हुए थे बरामद

सदर अस्पताल के लैब टेक्नीशियन लव कुमार के घर से 4 हजार एंटीजन किट, सैनिटाइजर, ग्लब्स पुलिस ने बरामद किए थे। लव के बयान पर ही सदर अस्पताल में पदस्थ दीपक कुमार, आनंद कुमार, मिथिलेश कुमार, अवधेश कुमार को जेल भेजा गया। सदर अस्पताल प्रबंधक प्रवीण कुमार व लैब टेक्नीशियन अमितेष भी आरोपित हैं, पर दोनों गिरफ्त से बाहर हैं। दो दिन पहले सकरा पुलिस सदर अस्पताल पहुंची तो प्रबंधक निकल लिए।

खबरें और भी हैं...