किडनी कांड के फरार आरोपितों की तलाश तेज:डॉ आरके सिंह के वैशाली में क्लिनिक की जानकारी मिली, टीम कर रही छापेमारी

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले

मुजफ्फरपुर के सकरा थाना के बरियारपुर में यूट्रस के ऑपरेशन के दौरान महिला सुनीता देवी का दोनों किडनी निकालने के मामले में फरार डॉ आरके सिंह का वैशाली के पातेपुर में क्लीनिक होने की जानकारी पुलिस को मिली है। इसको लेकर जिला पुलिस की विशेष टीम वैशाली के पातेपुर में छापेमारी करने पहुंच गई है। आरोपी डॉक्टर घटना के बाद से फरार है। वही, सूत्रों के अनुसार मुख्य आरोपी पवन के पश्चिम बंगाल भागने की आशंका जताई जा रही है।

पवन की तलाश में टीम अलग अलग इलाक़ो में लगातार छापेमारी कर रही है। बताते चले कि पुलिस को मुख्य आरोपी पवन का अंतिम मोबाइल लोकेशन बेगूसराय में मिला था। मोबाइल लोकेशन के आधार पर जिला पुलिस की विशेष टीम बेगूसराय पहुंची थी। लेकिन, उसका मोबाइल लगातार बंद बताने लगा है। जिसके वजह से टीम वापस लौट गई थी। जानकारी के अनुसार, जिला पुलिस की तीन अलग अलग विशेष टीम आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

मामले में केस के आईओ सह सकरा थानेदार सरोज कुमार आरोपियों का पता लगाने के लिए मैन्युअल इन्पुट के अलावा टेक्निकल सेल की भी मदद ले रही है। वही, डॉ समेत करीब 1 दर्जन मोबाइल का सीडीआर निकालने के लिए सर्विलांस टीम से संपर्क साधा गया है। उधर, हॉस्पिटल के आसपास किडनी निकाल कर फेंके जाने की आशंका पर पुलिस ने तीन दिन तक क्लिनिक के आसपास खेतो में छानबीन की। लेकिन, कुछ खास नही मिल सका है।

इधर, सुनीता का ऑपरेशन करने वाले सर्जन डॉ आरके सिंह के नाम पते का सत्यापन नही हो पा रहा है। इसको लेकर पुलिस टीम वैशाली जिले के पातेपुर, समस्तीपुर व बेगूसराय के अलग-अलग इलाक़ो में जाकर छानबीन कर रही है। पुलिस का कहना है कि डॉ के नाम पते का सत्यापन होते ही सभी आरोपियों के खिलाफ वारंट के लिए कोर्ट में अर्जी डाली जाएगी।

खबरें और भी हैं...