मुजफ्फरपुर में दूसरे चरण का मतदान:मड़वन और सरैया प्रखंड में सुबह से ही पहुंचने लगी महिलाएं- निर्जला व्रत के बावजूद वोट डालने आयी हूं, यह मौका बार-बार नहीं आएगा

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महिला मतदाताओं की काफी भीड़ देखी गयी। - Dainik Bhaskar
महिला मतदाताओं की काफी भीड़ देखी गयी।

मुजफ्फरपुर जिले में पंचायत चुनाव का आगाज हो चुका है। मड़वन और सरैया प्रखंड में सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ। लेकिन, मतदाता छह बजे से ही बूथों पर पहुंचने लगें सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें कतार में लगवाया। महिला और पुरुषों के लिए अलग-अलग कतार बनाया गया है। सात बजते ही मतदान शुरू हो गया। इस दौरान महिला मतदाताओं की काफी भीड़ देखी गयी। जितिया पर्व होने के बावजूद महिला मतदाताओं का उत्साह कम नहीं हुआ। काफी संख्या में महिला वोटर मतदान को बूथों पर पहुंची है। मड़वन मध्य विद्यालय बूथ पर वोट डालने पहुंची पार्वती देवी ने कहा की निर्जला व्रत में हैं। लेकिन, मतदान भी ज़रूरी है। अच्छा प्रतिनिधि चुनने के लिए वोट डालने आयी हैं। संजू देवी ने कहा की यह मौका बार-बार नहीं आएगा। पांच साल के प्रतिनिधि चुनना है। इसके लिए थोड़ा सहन तो करना पड़ेगा।

बता दें की दोनों प्रखंडो में छह पदों के लिए मतदान शुरू हो चुका है। 5125 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमाने मैदान में उतरे हैं। जिनके भाग्य का फैसला मतगणना के बाद होगा। इसे लेकर पुलिस-प्रशासन ने पूरी तैयारी कर ली है। चप्पे-चप्पे पर पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है। वहीं मतदान के निर्धारित पूर्व समय मे फेरबदल किया गया है। जिले के पांच प्रखंडों में सुबह सात बजे से तीन बजे तक ही मतदान होगा। उक्त निर्देश राज्य निर्वाचन आयोग ने जारी किया है। उक्त निर्देश के आलोक में SSP जयंत कांत ने सभी DSP और थानेदारों को अवगत करा दिया है। जिन पांच प्रखंडों में तीन बजे तक मतदान होना है, उसमे मीनापुर, सरैया, बोचहां, पारू और साहेबगंज है। बताया जा रहा है की सुरक्षा के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है। बता दें पहले पांच बजे शाम तक मतदान होना था। जिसमें फेरबदल करते हुए राज्य निर्वाचन आयोग ने नया समय जारी किया है।

कतार में रहेंगे तो मिलेगा अवसर

राज्य निर्वाचन आयोग ने ये भी कहा है कि अगर मतदान के समय समाप्ति तक कोई मतदाता कतार में खड़ा है तो उसे मतदान का अवसर मिलेगा। लेकिन, तीन बजे के बाद अगर कोई आकर मतदान करना चाहेगा तो उसे इसकी अनुमति नहीं मिलेगी। बूथ पर तैनात सुरक्षा बलों और मतदान कर्मियों को भी इससे अवगत करा दिया गया।

खबरें और भी हैं...