पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Strike In Municipal Corporation From Today; 1550 Will Not Work Out Of 1572 Personnel, Cleaning Work Will Come To A Standstill

नगर आयुक्त ने दी कार्रवाई की चेतावनी:नगर निगम में आज से हड़ताल; 1572 कर्मियों में 1550 नहीं करेंगे काम, ठप रहेंगे सफाई कार्य

मुजफ्फरपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दैनिक वेतनभाेगियों के बूते सफाई व्यवस्था सुचारु रखने में जुटे
  • कर्मियों ने कहा- 2 को पटना में प्रधान सचिव से बनी सहमति पर भी नहीं जारी हुआ पत्र

बिहार लाेकल बाॅडीज कर्मचारी संघर्ष माेर्चा के बैनर तले नगर निगम के कर्मचारियाें ने मंगलवार से हड़ताल की घाेषणा कर दी है। इससे पूरे शहर में साफ-सफाई ठप रहेगी। हड़ताल के पूर्व साेमवार काे निगमकर्मियाें ने शहर में जुलूस निकाल कर एकजुटता का परिचय दिया। इसमें 13 सूत्री मांगाें पर नारेबाजी करते हुए शहरवासियाें से कर्मचारी हित में समर्थन की अपील की। जुलूस से लाैट कर कर्मचारियाें ने नगर निगम कार्यालय में बैठक की। इसमें अनिश्चितकाल हड़ताल में अपनी मांगाें पर अड़े रहने के लिए एकता बनाए रखने का आह्वान किया गया।

उधर, हड़तालियाें काे नगर आयुक्त विवेक रंजन मैत्रेय ने कार्रवाई की चेतावनी देते हुए कहा कि इस काेराेना काल में किसी तरह की हड़ताल टैक्सपेयी शहरवासियाें से धाेखा हाेगा। इसके लिए कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्हाेंने दैनिक वेतनभाेगी व निजी सफाईकर्मियाें के दम पर सफाई व्यवस्था सुचारु रखने के लिए देर शाम बैठक भी की। इसमें सभी अंचल निरीक्षकाें व बहलखाना प्रभारियाें काे सफाई में पूरी शक्ति लगाने के निर्देश दिए। कहा कि जेसीबी व ट्रैक्टर लाेडर से मुख्य सड़काें से कूड़ा उठाया जाएगा। जरूरत पड़ने पर निजी चालकाें काे भी रखा जाएगा।

शहर में प्रतिदिन निकलता है 500 टन कूड़ा, दाे दर्जन माेहल्लों में है जलजमाव

यदि निगमकर्मियाें की हड़ताल कुछ दिन तक जारी रह गई ताे शहरवासियाें काे और फजीहत झेलनी हाेगी। शहर में प्रतिदिन 500 टन कूड़ा निकलता है जिसे निगम के सफाईकर्मी राेटेशन पर उठाते हैं। अभी दाे दर्जन से अधिक माेहल्लाें में जलजमाव भी है। हड़ताल के कारण सफाई पूरी तरह ठप हाे जाने पर सड़काें पर कूड़े का ढेर बढ़ता जाएगा, जलजमाव वाले माेहल्लाें में ताे लाेगाें काे दुर्दशा झेलनी हाेगी। हड़ताल से हाेल्डिंग टैक्स समेत अन्य शुल्क वसूली भी बाधित हाेगी।

दाे धरे में बंटे ऑफिस स्टाफ, अलग ग्रुप बना हड़ताल पर न जाने की अपील की

नगर निगम कार्यालय के कर्मचारी हड़ताल के मुद्दे पर दाे धरे में बंट गए हैं। कुछ कर्मचारी हड़ताल का विराेध कर रहे हैं। ऐसे कर्मचारियाें ने अपना नया संगठन भी बना लिया है। इस संगठन ने कर्मचारियाें और सफाईकर्मियाें से जनहित में हड़ताल पर नहीं जाने की अपील की है। इस संगठन से जुड़े कर्मचारी हड़ताल पर नहीं जाएंगे। बल्कि, काम जारी रखेंगे। यूं तो इस ग्रुप में सफाईकर्मी बहुत कम हैं, लेकिन इनसे नगर आयुक्त को व्यवस्था बनाए रखने में मदद मिलेगी।

शहरवासियों के हित में जलापूर्ति को ठप नहीं करेंगे हड़ताली कर्मी

संघ के प्रांतीय महामंत्री अशाेक सिंह ने बताया कि बीते दो सितंबर काे नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव से पटना में 13 सूत्री मांगाें पर हुई वार्ता में कई बिंदुओं पर सहमति बनी थी। लेकिन, उसके सापेक्ष विभाग की ओर से अब तक काेई पत्र जारी नहीं हुआ। जब तक वार्ता में बनी सहमति को लेकर पत्र विभाग की ओर से जारी नहीं किया जाता है तब तक हड़ताल जारी रहेगी। उन्हाेंने कहा कि नगर निगम में कुल 1572 कर्मचारी हैं जिनमें 1550 हड़ताल के समर्थन में रहेंगे। हड़ताल के दाैरान कार्यालय से लेकर पूरे शहर की सफाई आदि व्यवस्था ठप रहेगी। शहरवासियाें के हित काे देखते हुए सिर्फ पानी सप्लाई बंद नहीं करने का निर्णय लिया गया है। इसे चालू रखा जाएगा।

खबरें और भी हैं...