युवती की आत्महत्या का मामला / ‘एसएसपी माैके पर आकर न्याय का आश्वासन दें तभी उठेगा शव’

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

मुजफ्फरपुर. यौन शोषण की शिकार युवती ने शाम साढ़े चार बजे आत्महत्या की। इस घटना के बाद जब कटरा थाने की पुलिस शव पाेस्टमार्टम के लिए कब्जे में लेने अाई ताे परिजन व माेहल्ला के लाेगाें ने विराेध कर दिया। परिजनाें ने कहा कि एसएसपी आकर न्याय का भराेसा दें तभी शव उठेगा। लेकिन, रात 11 बजे तक एसएसपी गांव में नहीं पहुंचे। अात्महत्या के बाद बड़ी संख्या में घटनास्थल पर लाेग जुट गए। आक्राेश देख युवती से दुष्कर्म कांड के आईओ कटरा थानेदार सिकंदर कुमार माैके पर पहुंचने की हिम्मत नहीं जुटा पाए।

शव पाेस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेजने के लिए शाम में जनप्रतिनिधियाें के सहयाेग से युवती के परिजनाें काे मनाने में स्थानीय पुलिस जुटी। झांसा दे युवती से सादे कागज पर करवाया था हस्ताक्षर  युवती के पिता ने बताया कि गिरफ्तारी का दबाव बना ताे झांसा देकर बेटी से सादे कागज पर आराेपियाें ने हस्ताक्षर करवा लिया था। इसके लिए  मधुबनी ले गया। एटीएम कार्ड, गहना जेवर भी युवती साथ में लेकर गई थी। जब सादे कागज पर हस्ताक्षर लेने के बाद युवक मुकर गया ताे बेटी काे लेकर आईजी से मिलने शहर गए। आईजी ने कहा था कि आराेपी काे हर हाल में गिरफ्तार किया जाएगा। लेकिन यहां थाने पर आकर सारा मामला ही पलट जाता था। 

8 आराेपियाें की गिरफ्तारी का आदेश ताे जारी हुआ, लेकिन नहीं हुई कार्रवाई  
कटरा थाने में शादी करने का झांसा देकर याैन शाेषण करने व नशीली दवा देकर गर्भपात कराने के आराेप में बीते 5 फरवरी को आराेपी जीतेंद्र पासवान, उसके परिजन महेश पासवान, रामरती देवी, लालबाबू पासवान, विनीता कुमारी, अरविंद पासवान, पूजा कुमारी, मनाेज पासवान व राजा बाबू पासवान पर प्राथमिकी दर्ज कराई थी। एसएसपी ने बताया कि कांड काे सत्य पाते हुए गिरफ्तारी का आदेश जारी किया गया था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना