• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • The Reason Was Not Known From The Pastmortem, Only To Find A Clue To The Murder From The Basement Investigation, The Police Did Not Send It

लापरवाही:पाेस्टमार्टम से वजह पता न चला बेसरा जांच से ही मिलना था हत्या का सुराग, पुलिस ने भेजा ही नहीं

मुजफ्फरपुर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • अहियापुर के बुआ-भतीजी हत्याकांड में 16 दिन बाद भी पुलिस खाली हाथ

बुआ-भतीजी हत्या के मामले में 16 दिन बाद भी अहियापुर थाने की पुलिस खाली हाथ है। पांच डाॅक्टराें की टीम ने पाेस्टमार्टम किया, लेकिन हत्या की वजह नहीं ढूंढ़ पाई। दूसरी तरफ पुलिस भी अब तक यह पता नहीं कर पाई है कि हत्या कैसे और क्याें की गई। हिस्टाेपैथाेलाॅजी रिपाेर्ट से भी स्पष्ट नहीं हुआ। बेसरा जांच से ही सुराग मिलने की उम्मीद है।

लेकिन, पुलिस ने अब तक एसकेएमसीएच से बेसरा लेकर पटना नहीं भेजा। बेसरा काे पटना भेजने से पहले काेर्ट की अनुमति भी लेनी हाेगी। उधर, दाेनाें किशाेरियाें के परिजन थाने का चक्कर लगाकर थक गए हैं। पिता ने कहा कि किससे न्याय की उम्मीद करें। भतीजी की मां का कहना है कि हत्यारे उसकी बेटी काे घर से उठा कर ले गए। सब दबंग परिवार के हैं। पुलिस काे नाम भी बता चुकी हूं, लेकिन काेई कार्रवाई नहीं हुई।

27 सितंबर काे अपने घर से खाना बनाने के दाैरान दाेनाें अचानक गायब हो गई थी। दाेनाें आपस में बुआ-भतीजी थी। पुलिस ने 4 दिन तक मामले काे दबाए रखा। एफआईआर के लिए परिजनाें ने जब दबाव बनाया ताे एक अक्टूबर काे शाम में अपहरण की धारा में एफआईआर हुई।

उसके अगले दिन दाेनाें किशाेरियाें का शव घर के पीछे एक पानी भरे गड्ढे में मिला। तब यह आशंका जताई गई थी कि दुष्कर्म के बाद हत्या कर शव फेंका गया। हालांकि, एसकेएमसीएच के डाॅक्टराें की टीम ने पाेस्टमार्टम रिपाेर्ट में दुष्कर्म या हत्या काे लेकर काेई स्पष्ट बातें नहीं कही हैं।

जांच को बेसरा का नमूना काेर्ट में प्रस्तुत कर पटना के एफएसएल लैब भेजने की अनुमति ली जाएगी। पाेस्टमार्टम से हत्या का स्पष्ट कारण पता नहीं चल पाया है। हत्याराें का सुराग लगाने को स्थानीय स्तर पर भी पुलिस छानबीन कर रही है। -राजेश कुमार, सिटी एसपी

खबरें और भी हैं...