• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • The Selection Will Be Done For The First, Second And Third Place On The Average Of The Marks Obtained From The Members Of The Three member Jury.

कला उत्सव:तीन सदस्यीय निर्णायक मंडल के सदस्यों से मिले अंकों के औसत से प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान के लिए होगा चयन

मुजफ्फरपुर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कला उत्सव को लेकर मूल्यांकन करते निर्णायक मंडल। - Dainik Bhaskar
कला उत्सव को लेकर मूल्यांकन करते निर्णायक मंडल।

कला उत्सव की जिला स्तरीय प्रतियोगिता में 9 विधाओं में छात्र-छात्राओं की ओर से अपलोड कराए गए ऑनलाइन परफॉर्मेंस की मूल्यांकन प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। 3 सदस्यीय निर्णायक मंडल के सदस्य बारी-बारी से सभी प्रतिभागियों की प्रस्तुति देखकर उन्हें अंक देंगे। तीनों के अंक के औसत के आधार पर फाइनल अंक प्रदान किया जाएगा।

इसी आधार पर विभिन्न विधाओं में प्रतिभागियों की रैंकिंग की जाएगी। इसमें 9 विधाओं में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान के लिए स्टूडेंट्स का चयन किया जाएगा। यह जानकारी बीईपी के गुणवत्ता शिक्षा संभाग प्रभारी सुजीत कुमार ने दी।

शास्त्रीय संगीत गायन और वादन के विजेताओं का चयन होगा

बताया कि गुरुवार को दूसरे दिन ऑनलाइन अपलोड किए गए स्कूल स्तर से प्रथम स्थान पर चुने गए प्रतिभागियों के वीडियो, फोटो, राइट अप का अवलोकन करते हुए मूल्यांकन किया। कला उत्सव के लिए मूल्यांकन प्रपत्र तैयार किया गया है। उसी में निर्णायक मंडल के सदस्यों को रैंकिंग करनी है।

बताया कि कला उत्सव का जिला स्तरीय मूल्यांकन कार्य 9 अक्टूबर तक चलेगा। उल्लेखनीय है कि शास्त्रीय संगीत गायन, शास्त्रीय संगीत वादन, पारंपरिक लोक संगीत गायन, पारंपरिक लोक संगीत वादन, शास्त्रीय नृत्य, लोकनृत्य, दृश्यकला द्विआयामी, दृश्य कला त्रिआयामी, स्थानीय खेल-खिलौना व मूर्तिकला विधाओं में विजेताओं का चयन किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...