मानसून की बेरुखी...:बीते सप्ताह से जिले में नाम मात्र हुई बारिश, 14 फीसदी खेतों में नहीं लगीं खरीफ फसलें

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौसम फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
मौसम फाइल फोटो।

जिले में एक सप्ताह से बारिश नहीं हुई है। मौसम विभाग के अनुसार अभी चार दिनाें तक नाम मात्र बारिश की संभावना है। सावन महीने की अंतिम सोमवारी तक जिले में तय सामान्य औसत बारिश 545 के बदले 427 मिलीमीटर ही हुई है। यह औसत से 22 फीसदी कम है।

ऐसे में लक्ष्य की तुलना में 14 फीसदी कम खेत में खरीफ फसलें लगाई जा सकी हैं। 86 फीसदी खेतों में लगी फसलें अब सूखने लगनी लगी हैं। खासकर धान के खेतों में पानी सूख गए हैं। दरारें फट रही हैं।

अब सप्ताह भर बारिश नहीं हुई, ताे पंपसेट से सिंचाई के बाद भी धान के की पैदावार पर ग्रहण लगता दिख रहा है। क्याेंकि, धान की फसल लक्ष्य के 89 फीसदी क्षेत्र में लग चुकी है। अब बारिश नहीं हाेने से धान की फसल कल्ला निकलने के बदले झुलसने लगी है। कृषि विभाग ने जिले के सभी सरकारी नलकूपों काे चालू करने और कृषि फीडर से 16 घंटे बिजली देने का आग्रह किया है।

जिला कृषि अधिकारी शिलाजीत सिंह ने कृषि विभाग के आधा दर्जन अधिकारियों काे वरीय प्रभारी पदाधिकारियों के रूप में मनोनीत कर स्थिति पर नियंत्रण के लिए आवश्यक कदम उठाने काे कहा है।

किसानों काे डीजल अनुदान के लिए ऑनलाइन आवेदन देना है। अबतक 2475 किसानों ने डीजल अनुदान के लिए आवेदन किए हैं। कृषि विभाग खाली खेतों में बुआई के लिए आकस्मिक फसल योजना तैयार कर रहा है। इसके तहत खाली खेतों में बुआई के लिए विभाग से आवश्यकता अनुसार बीज की मांग की जाएगी।

खाली खेतों में बुआई के लिए आकस्मिक फसल योजना, प्रखंड वार अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति

इधर राहत भी, नदियों के जलस्तर में तेजी से कमी

उत्तर बिहार के साथ नेपाल में भी बारिश नहीं हाेने से जिले से गुजरने वाली सभी नदियों के जलस्तर में साेमवार तेजी से कमी आ रही है। बाकी नदियों के साथ बागमती का जलस्तर भी कटौझा में खतरे के निशान से नीचे आ गया है। हालांकि, यह बेनीबाद में अभी खतरे के निशान से 30 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है। साेमवार काे सिकंदरपुर में बूढ़ी गंडक के जलस्तर में 21 सेंटीमीटर की कमी आई। बूढ़ी गंडक का जलस्तर भी अखाड़ाघाट में घटने लगा। इससे बूढ़ी गंडक किनारे बसे झील नगर, कर्पूरी नगर, लकड़ीढाई समेत आसपास के मोहल्लों के लाेगाें काे राहत मिली। ज्ञात हाे कि रविवार काे बागमती का जलस्तर बढ़ा था।

बागमती में कटाैझा में 58 व बेनीबाद में 51 सेमी कमी गंडक में 36 सेंमी पानी घटा, खतरे, 53.74 मीटर जलस्तर

नदियों में जलस्तर की स्थिति (मीटर में)

नदी स्थान खतरे का निशान जलस्तर
बागमती कटाैझा 55.00 54.32
बागमती बेनीबाद 48.68 48.97
गंडक रेवाघाट 54.41 53.74
बूढ़ी गंडक सिकंदरपुर 52.53 50.38

खबरें और भी हैं...