स्मार्ट हो गयी मुजफ्फरपुर की ट्रैफिक पुलिस:ड्रेस कोड में जवान कर रहे ड्यूटी, 150 जवानों की शहर में हुई तैनाती, स्पीड गन लगा लग्जरी कार भी मिला

मुजफ्फरपुर2 महीने पहले
नए ड्रेस कोड में तैनात ट्रैफिक

पटना के बाद अब मुजफ्फरपुर की ट्रैफिक पुलिस भी स्मार्ट हो गयी है। अब ये खाकी वर्दी में ड्यूटी नहीं कर रहे हैं। इनका ड्रेस कोड जारी हो गया है। ब्लू रंग की पैंट और व्हाइट शर्ट पहनकर ड्यूटी कर रहे हैं। सिर पर हेलमेट भी है। पटना में जो ट्रैफिक पुलिस के जवानों के लिए ड्रेस कोड है। वही मुजफ्फरपुर में भी लागू कर दिया गया है। जिसे पहनना अनिवार्य है। बिना ड्रेस कोड के जो जवान ड्यूटी करते पाए जाएंगे। उनपर कार्रवाई की जाएगी। इसकी शुरुआत हो गयी है। ट्रैफिक थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने खुद सरैयागंज टावर चौक पर पहुंचकर इसका जायजा भी लिया। जवानों को महत्वपूर्ण निर्देश भी दिए। साथ ही एक्टिव रहने को भी कहा।

बॉडी वार्म कैमरा से थे लैस

हाल में ही ट्रैफिक पुलिस को बॉडी वार्म कैमरा भी दिया गया था। जिसे शोल्डर पर लगाकर ड्यूटी कर रहे थे। अब ड्रेस कोड भी मिल गया। इससे काफी हद तक स्मार्ट ट्रैफिक सिस्टम देखने को मिल रहा है। थानेदार ने बताया कि शहर में करीब 150 जवानों की तैनाती की गई। सभी चौक-चौराहों पर इनकी तैनाती है। अभी नाला निर्माण के कारण सड़के छोटी हो गयी है। कुछ सड़के बन्द भी है। इस कारण भी जाम लग रहा है। जब सड़कें दुरुस्त हो जाएंगी। तब स्मार्ट ट्रैफिक सिस्टम दिखने लगेगा।

मिला है हाईटेक कार

ट्रैफिक थानेदार ने बताया कि स्पीड गन से लैश एक लग्जरी कार भी मिली है। यह हाईटेक कार है। इसमे ब्रेथ एनालाइजर समेत 17 प्रकार की अत्याधुनिक मशीनें लगी है। इसके अलावा अगर कोई व्यक्ति ब्लैक शीशा लगे वाहन से जा रहा है तो ये कार उसे पकड़ लेगी की किस तरह का ये ब्लैक शीशा है। क्या ये मानक के अनुरूप है या नहीं ? अगर नहीं है तो फिर चालान किया जाएगा। इसके अलावा हॉर्न कितना बजाना है। कितने देर तक बजाना है। ये सब भी इस कार में कगे सिस्टम से पता चल जाएगा। इसके लिए ट्रैफिक पुलिस को ट्रेनिंग भी दी गयी है।

खबरें और भी हैं...