पुलिस को सौंपा:हथियार के बल पर घर के सदस्यों को बंधक बनाकर की लाखों की डकैती

पकरीबरावांएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पकरीबरामा में दीपावली की रात अपराधियों ने एक घर में जमकर उत्पात मचाया। अपराधियों ने हथियार के बल पर लाखों के जेवरात और नगदी लूट लिए। इस दौरान परिजनों के शोर मचाने पर जमा हुई पब्लिक ने एक अपराधी को दबोच लिया और पुलिस को सौंप दिया। हालांकि पुलिस मामले को संदेहास्पद बता रही है। वही पीड़ित ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए अपराधियों की मदद करने का आरोप लगाया है।

मामला पकरीबरावां बाजार का है जहां दीपावली की रात में ही रिवॉल्वर के बल पर बड़ी लूट की खबर सामने आई है। घटना गुरुवार-शुक्रवार की मध्य रात्रि करीब 2 बजे की बताई जा रही है, जहां घरवालों को रिवॉल्वर के बल पर कमरे में बंधक बनाते हुए लूट की घटना को अंजाम दिया गया। लूट के बाद भागते हुए चार अपराधियों में से एक अपराधी को घरवालों ने हिम्मत दिखाते हुए धर-दबोचा और पकरीबरावां पुलिस को सौंप दिया है। पकड़े गए युवक की पहचान हो गई है।

बंधक बना कर दिया लूट की घटना को अंजाम

घटना के संबंध में पुलिस को जानकारी देते हुए पीड़ित पकरीबरावां के मेन रोड निवासी हिरामन साव के पुत्र किशोरी साव ने बताया कि बीते गुरुवार-शुक्रवार की मध्य रात्रि करीब दो बजे चार अपराधी घर में घुसे। इस बीच रिवॉल्वर के बल पर सभी को बंधक बनाते हुए 74 हजार नगद समेत बक्से में रखे सोने व चांदी के करीब 5 लाख रुपए मूल्य के जेवरात लूट लिए।

पकड़े गए आरोपी की हुई पहचान

पीड़ित ने बताया कि उस वक्त वे ऊपर के कमरे में सोए थे। भनक लगते ही शोर मचाना शुरू किया। शोर मचाने पर अपराधी भागने लगे। इस दौरान मो. इरफान नामक अपराधी पकड़ा गया। उन्होंने यह भी बताया कि जाते-जाते अपराधियों ने पकड़े गए अपराधी को छोड़ देने को कहा। नहीं छोड़ने पर जान से मारने की धमकी दी गई। उन्होंने पकरीबरावां थाना में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है।

मामले में पुलिस की अलग थ्योरी

इधर इस मामले में पुलिस की अलग थ्योरी है। पुलिस इसे लूट नहीं मान रही है। पकरीबरावां एसएचओ नागमणि भास्कर ने बताया कि घरवालों ने एक युवक को पकड़कर पुलिस कस्टडी में दिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जांचोपरांत अग्रेत्तर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...