पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आंदोलन:एक रास्ता के अभाव में कई वर्षों से परिजनों के साथ अपने ही घर में कैद है प्रसादी : देवनाथ

फुलपरासएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
Advertisement
Advertisement

अनुमंडल के गड़वा गांव निवासी एक दीन हीन व्यक्ति प्रसादी साफी को न्याय दिलाने के लिए सरकारी व्यवस्थाओं के खिलाफ आवाज उठाने पर कतिपय नेताओं कार्यकर्ताओं के द्वारा की जा रही बयानबाजी को अनर्गल प्रलाप बताते हुए पूर्व विधायक देवनाथ यादव ने कहा है कि यह मामला न्याय के साथ विकास के सरकारी अवधारणाओं के प्रतिकूल है। राजा हो या रंक न्याय की आवश्यकता सबको है। प्रसादी साफी एक अदद रास्ता के अभाव में कई वर्षों से अपने परिजनों के साथ अपने ही घर में कैद है।

सरकार में बैठे कुछ रसूखदार लोगों के कारण उन्हें अब तक न्याय दिलाने का उनका सारा प्रयास निष्फल रहा है। इसकोे लेकर उनके द्वारा दिए गए बयानों से दल के ही कतिपय नेता और कुछ मौका परस्त लोगों को मिर्ची लगी है। जिसे सिर्फ निंदनीय कहा जा सकता है। बुधवार को अपने आवास सह जदयू कार्यालय में पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान उन्होंने उपरोक्त बातों की चर्चा करते हुए कहा कि  मुद्दे को लक्ष्य से भटकाने और सरकार का प्रबल समर्थक होने का दिखावा करते कुछ लोग अनर्गल बयान दे रहे हैं। जो सिर्फ बयानवीर हैं और राजनीतिक हित साधन के फेर में हैं। जन समस्याओं से उन्हें कुछ लेना देना नहीं है। हाथ पर हाथ धर कर बैठे रहना उनके फितरत में शामिल नहीं है।

जातीय गोलबंदी करने वाले बयानवीरों को यह बताना चाहिए कि 1977 में जब सुड़ियाही के परशुराम कामत और 1995 में जानकी नगर के निवासियों को न्याय नहीं मिला तब वे कहां थे। मेरे बयान पर पार्टी को अगर कोई आपत्ति होगी तो जबाव मैं दूंगा लेकिन राजनीति को आय का जरिया बनाने वाले कई नेताओं को यह बताना चाहिए कि अपने अल्प राजनीतिक जीवन में ही जिला मुख्यालय में आलीशन बंगला बनाकर वे कैसे रह रहें हैं। मौके पर पंचायत जदयू अध्यक्ष चंदेश्वर यादव, पूर्व मुखिया भगवान लाल यादव, राम चरण यादव, योगेन्द्र सदाय, विधायक प्रतिनिधी अशोक कुंवर, जिला पार्षद मिथलेश कुमारी, राम यश यादव उपस्थित थे।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement