पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Ramnagar
  • Without Pilot Channel And Stumbling Work In Ramnagar Imarti Katharwa, The Work Of Stumbling Will Not Be Completed, Till Then The Guide Dam Will Not Be Built

आक्रोश:रामनगर इमरती कटहरवा में बिना पायलट चैनल व ठोकर का कार्य पूरा नहीं होगा, तब तक नहीं बनने देंगे गाइडबांध

रामनगर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रामनगर इमरती कटहरवा में ग्रामीणों के साथ बैठक करते अधिकारी। - Dainik Bhaskar
रामनगर इमरती कटहरवा में ग्रामीणों के साथ बैठक करते अधिकारी।
  • एसडीएम समेत आपदा व जल नि:सरण विभाग के अधिकारियों ने समझौता का किया प्रयास, ग्रामीण बोले-

रामनगर प्रखंड के इमरती कटहरवा गांव में ध्वस्त हुए मसान नदी के गाइड बांध का निरीक्षण बगहा एएसडीएम शेखर आनंद जिला आपदा पदाधिकारी अनिल राय समेत टीम ने किया। जायजा लेने के दौरान ग्रामीणों को लगा कि रोके गए ध्वस्त गाइड बांध का निर्माण कार्य आरंभ कर दिया गया है।

इसके भम्र होने के बाद सैकड़ों की संख्या में पहुंचे स्थानीय ग्रामीण लाठी-डंडा लेकर पहुंच गए लेकिन वहां कार्य आरंभ नहीं हो रहा था, जिसे देख ग्रामीण वापस लौट आए। बगहा एसडीएम ने प्राथमिक विद्यालय इमरती कटहरवा प्रांगण में मानवता समझौता को लेकर ग्रामीणों के साथ बैठक की। इसमें पूर्व में हुए समझौता पर चर्चा की गई। इसमें लोगों ने बताया कि इस गांव को बचाने के लिए अभी 300 मीटर बांस पायलिंग का काम बाकी है। ठोकर बनाना था, वह भी नही बना और पायलट चैनल चिरा नहीं बन सका है।

रिंग बांध पारित करने का आश्वासन मिला था लेकिन सभी कार्य अधूरा पड़ा है। बगहा एसडीएम शेखर आनंद ने बताया कि ग्रामीणों के साथ बैठक कर समझौता किया जा रहा है। ठोकर बनाने की मांग को आगामी 13 जून से आरंभ किया जाएगा।

रिंग बांध जरूरी, तभी बचेगा इमरती कटहरवा गांव

इमरती कटहरवा गांव की सुरक्षा के लिए पश्चिम दक्षिण तरफ रिंग बांध जरूरी है। सुमित सिंह, सुरेश चौधरी, वीरेंद्र चौधरी, चितरंजन चौधरी, रामजी मुसहर, सत्यनारायण मुसहर, अनिल चौधरी, हरिनारायण मिश्र, संतोष सिंह, सिकंदर चौधरी, वृजनन्दन सिंह, गया राय, देवंती देवी आदि तमाम ग्रामीण बताते हैं कि अबतक उनके इस गांव की जरूरतों की अनदेखी ही की जाती रही है। रिंग बांध का निर्माण कराए बिना गाइड बांध की मरम्मत करा देना इस गांव के लिए विनाशकारी सिद्ध होगा। ऐसा होने पर बरसात के दौरान पूरा इमिरती कटहरवा गांव मसान, सिंगहा व बलोर नदियों की मुख्य धारा की चपेट में आ जाएगा। लोगों ने बताया कि मसान नदी की धारा इमिरती कहररवा गांव तक पिछली ही बरसात में पहुंच चुकी है।

रिंग बांध बनने के बाद ही तीन तरफ से नदियों से घिरे इस गांव की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सकेगी। जल निस्सरण विभाग के अधीक्षण अभियंता उमानाथ राम बताते हैं कि इमिरती कटहरवा गांव में रिंग बांध की योजना का प्रस्ताव विभाग को भेजा गया है। अनुमति मिलते ही यह कार्य कराया जाएगा। इस मौके पर बगहा एसडीएम शेखर आनंद, आपदा पदाधिकारी अनिल राय, सीओ विनोद कुमार मिश्र, कार्यपालक अभियंता लालबहादुर गुप्ता, सहायक अभियंता सचिन कुमार, जेई रमेश कुमार थे।

खबरें और भी हैं...