स्म आरती:काली मंदिर में हर दिन होती है भस्म आरती; पहले दिन 500 कलश स्थापित

रक्सौल20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

काली मंदिर की स्थापना 1993 में हुई थी। तभी से ही यहां हर नवरात्र में 500 कलश की स्थापना की जाती है। यहां ऐसी मन्नत है कि जो यहां कलश की स्थापना करता है उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती है। काली मंदिर में नवरात्र के नौ दिन सुबह शाम काल कालीनाथ शिवलिंग की भष्म आरती भी की जाती है। भष्म आरती को देखने के लिए दूर-दूर से भक्त आते हैं। मंदिर के पीठाधीश सेवक संजय नाथ बताते है कि यहां के दसमुखी काली मां का जो स्वरूप है वो पूरे भारत में एक ही है। नवमी के दिन बाबा का साधन गृह में अखंड हवन कुंड, अखंड दीप व मां काली का भव्य स्वरूप का दर्शन आम भक्तों के लिए नवमी के दिन सुबह 6 बजे से रात्रि 9 बजे तक खुला रहता है।

खबरें और भी हैं...