दोस्त-दोस्त ना रहा:रात में हादसे के बाद घायल दोस्त को छोड़ फरार हुआ युवक, सुबह में मृत मिला दोस्त

साहेबगंज9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हादसे की बात बताने के बजाय बाइक सवार द्वारा ठोकर मारने की दी जानकारी

संकट पड़ने पर दोस्त दोस्त ना रहा। शनिवार की रात एेसी ही घटना सामने आई। बाइक हादसे के बाद एक दोस्त को छोड़ कर दूसरा फरार हो गया। रविवार की सुबह में राहगीरों ने तटबंध के नीचे क्षतिग्रस्त बाइक व शव को देखा। जिसके बाद इस घटना का खुलासा हुआ। शनिवार की रात करीब 7 बजे प्रखंड के देवसर असली बीस भवारी पुल के पूर्व तिरहुत तटबंध पर एक बाइक दुर्घटनाग्रस्त हो गई। जिसके बाद बाइक सवार एक युवक मो. फैयाज (18 वर्ष) की मौत हो गई। वहीं, दूसरा युवक मेहंदी हसन (24 वर्ष) घायल हो गया। दोनों पारू प्रखंड के काजी महम्मदपुर गांव के रहने वाले थे। मो. फैयाज अपने ग्रामीण साथी मेहंदी हसन के साथ उसकी बहन के छपरा(बंगरा घाट पुल के दक्षिण) स्थित ससुराल से घर लौट रहा था। रविवार की सुबह में राहगीरों ने तटबंध के उत्तर दिशा में क्षतिग्रस्त बाइक एवं मृत युवक को देखा। कुछ ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। इसी बीच मृतक की पॉकेट में रखे मोबाइल पर एक कॉल आया। लोगों ने युवक के दुर्घटना में मृत होने की जानकारी परिजनों को दी। जिसके बाद परिजन मौके पर पहुंचे। इधर, मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेज दिया। मो. फैयाज पांच भाई एवं एक बहन में सबसे छोटा था। पिछले वर्ष उसने इंटर परीक्षा पास की थी।

सच बताता तो शायद बच सकती थी मो. फैयाज की जान : इधर, हादसे के बाद घायल दूसरा युवक पैदल ही बीस भवारी पुल के समीप संतोष कुमार यादव के घर पहुंचा। पूछने पर बताया कि बाइक सवार उसे ठोकर मार कर भाग गया। उसने हादसे में दोस्त के घायल होने की जानकारी नहीं दी। अगर जानकारी दी होती तो शायद मो. फैयाज की जान बच सकती थी। वहीं से उसने अपनी बहन को फोन किया। जिसके थोड़ी ही देर बाद दो बाइक पर उसके बहन के साथ लोग पहुंचे और उसे लेकर चले गए। सुबह 7 बजे उसने सीएचसी में अपना इलाज कराया। उसके पैर एवं हाथ में जख्म था। ग्रामीण के अुनसार, जिस समय वह पहुंचा, नशे की हालत में था।

खबरें और भी हैं...