पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आफत में जान:रेलमंडल में 200 रेलवे स्टेशन, सिर्फ 20 स्थानों पर एफओबी बाकी में दूसरे प्लेटफॉर्म पर जाने के लिए ट्रैक पार करते यात्री

समस्तीपुर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दो साल में मात्र चार रेलवे स्टेशन पर फुट ओवरब्रिज का हो पाया निर्माण, 30 स्टेशनों पर चल रहा है निर्माण

समस्तीपुर रेलवे मंडल में छोटे बड़े कुल 200 रेलवे स्टेशन हैं। लेकिन मात्र 20 स्टेशनों पर ही फुट ओवर ब्रिज है। शेष बचे 180 स्टेशनों पर फुटओवर ब्रिज नहीं है। इससे उक्त स्टेशनों के दूसरे प्लेटफाॅर्म पर जाने के लिए यात्रियों को रेलवे लाइन पार करना पड़ता है। इससे आए दिन यात्री रेल हादसा के शिकार हो रहे हैं। सबसे खतरनाक स्थिति उस समय हो जाती है जब दूसरे प्लेटफॉर्म से ट्रेन खुलने वाली होती है, और मुख्य लाइन पर माल ट्रेन खड़ा होती है। लोग जान जोखिम में डालकर मालगाड़ी की बोगी के नीचे से पार कर ट्रेन पकड़ते हैं। सीनियर डीईएन को-ऑर्डिनेशन आरएन झा बताते हैं कि इस वित्तीय वर्ष में मंडल के चार स्टेशनों पर फुटओवर ब्रिज का निर्माण पूरा हो गया है। 30 स्टेशनों पर निर्माण कार्य चल रहा है। कोरोना के कारण फंड रिलीज होने में दिक्कत के कारण महत्वपूर्ण माने जाने वाले स्टेशन पर ही कार्य को बढ़ाया जा रहा है। वैसे धीरे-धीरे सभी स्थानों पर फुटओवर ब्रिज का निर्माण किया जाएगा। मंडल के 180 स्टेशन पर नहीं है फुटओवर ब्रिज : छोटे बड़े 200 रेल स्टेशन वाले इस रेल मंडल में एवन -ए, ए, बी व कुछ डी क्लास स्टेशन को छोड़ दें तो 95 ई व 70 एफ क्लास स्टेशन पर फुट ओवर ब्रिज नहीं है। ऐसे स्टेशनों की संख्या 180 है। जहां दूसरे प्लेटफार्म पर जाने के लिए रेलवे लाइन का सहारा लेना होता है।

कोरोना के कारण फंड रिलीज होने में दिक्कत के कारण महत्वपूर्ण स्टेशन पर ही कार्य हो रहा है: सीनियर डीईएन

​​​​​​​किशनपुर स्टेशन : 3 लोगों की कट कर हो चुकी मौत

दिन के एक बजे समस्तीपुर-दरभंगा रेल खंड पर स्थित किशनपुर स्टेशन। कोरोना के कारण सवारी गाड़ी का परिचालन नहीं होने से स्टेशन पर सन्नाटा है। अभी सिर्फ एक्सप्रेस ट्रेनों का परिचालन हो रहा है। सुबह में डीएमयू ट्रेन रुकती है। स्टेशन पर किसी इंटरसिटी एक्सप्रेस के रूकने का प्रतीक्षा कर रहे वारिसनगर के गंभीर कुमार, अनमोल कुमार, सोहन कुमार, पियुष कुमार बताते हैं कि इस स्टेशन से रोज कम से कम दो हजार लोग आते और जाते हैं फुट ओवरब्रिज नहीं रहने के कारण यात्रियों को रेलवे पार कर दूसरी ओर जाना होता है। रात के समय में अक्सर लोग चोटिल हो जाते हैं। कोरोना के कारण कम ट्रेनों का परिचालन होने के बाद भी तीन लोगों की ट्रेन से कट कर मौत हो चुकी है।

रामभद्रपुर स्टेशन : एफओबी के लिए आंदोलन भी हुआ

समस्तीपुर -दरभंगा रेलखंड का रामभद्रपुर स्टेशन दिन के 2.10 बजे प्लेटफाॅर्म नंबर एक पर माल ट्रेन लगी हुई थी। रामभद्रपुर स्टेशन के दूसरे तरफ से रामभद्रपुर के मो. मंजूर, श्री राम प्रसावान, सियाराम साह, ब्रह्मदेव राय, रामबालक साह, मो. खुद्दुस आदि रेलवे लाइन पार कर दूसरी ओर आ रहे थे। रेलवे लाइन पार कर आने का कारण पूछा तो सभी लोग बोले- देख नहीं रहे फुटओवर ब्रिज नहीं है। आखरी लोग लाइन कैसे पार करे। यह तो रोज का कम हो गया है। प्लेटफाॅर्म की उंचाई बढ़ जाने के कारण मित्रों का हाथ पकड़ कर दूसरी तरह आते हैं। इस स्टेशन से सामान्य दिनों में रोज 1500 लोगों का आना जाना होता है। फुटओवर ब्रिज के लिए स्थानीय लोग लंबे समय से आंदोलन कर रहे हैं।

हसनपुर स्टेशन : हथेली पर जान रखकर करते ट्रैक पार

दिन के 2.30 बजे हसनपुर स्टेशन पर काले नरपतनगर के नीरज कुमार, बथौल के साकेत कुमार, सकरपुरा के सुभाष कुमार, हसनपुर बाजार के नीरज यादव, परिदह के राहुल सिंह प्लेटफाॅर्म नंबर एक पर बैठे मिले। यात्रियों ने बताया कि सभी को समस्तीपुर जाना है। ट्रेन प्लेटफाॅर्म नंबर पर दो पर आएगी। स्टेशन पर फुट ओवरब्रिज नहीं है रेलवे लाइन पार कर ही जाना होगा। इससे हमेशा डर लगा रहता है। इस स्टेशन से देश के विभिन्न स्टेशनों के लिए भारी संख्या में मक्का का लदान होता है। इससे रेलवे को अच्छी खासी आय हाती है। बावजूद यहां फुटओवर बिज नहीं बनाया गया। जबकि फुट आेवर ब्रिज के लिए इस स्टेशन से यात्रा करने वाले लोग समय-समय पर आंदोलन करते रहे हैं।

फुट ओवरब्रिज के अभाव में धमाराघाट में 28 लोगों की कट कर हुई थी मौत

मंडल के धमाराघाट स्टेशन पर 19 अगस्त 2013 को राजरानी एक्सप्रेस से कट कर 28 लोगाें की उस समय मौत हो गई थी, जब कात्यायनी मंदिर में पूजा करने जा रहे 28 लोग कट गए थे। बाद में आनन फानन में फुटओवर ब्रिज का निर्माण कराया गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपके स्वाभिमान और आत्म बल को बढ़ाने में भरपूर योगदान दे रहे हैं। काम के प्रति समर्पण आपको नई उपलब्धियां हासिल करवाएगा। तथा कर्म और पुरुषार्थ के माध्यम से आप बेहतरीन सफलता...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...

  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser