पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बूढ़ी गंडक ढाब की घटना:निर्माणाधीन विवाह भवन की जमीन खोदने के दौरान धंसना गिरा, एक मजदूर की मौत

समस्तीपुर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 4 घंटे की मशक्कत के बाद शव निकाला, इस दौरान चार बार धंसी जमीन

शहर के बूढ़ी गंडक ढाव में शनिवार को एक निर्माणाधीन विवाह भवन में शौचालय की टंकी खोदे जाने के दौरान धंसना गिरने से वहां काम कर रहे तीन मजदूर दब गए। हालांकि दो लोग मिट्टी से बाहर निकल गए जबकि एक मजदूर की दबकर मौत हो गई। करीब 4 घंटे की मशक्कत के बाद मिट्टी के नीचे दबे मजदूरों के शव को बाहर निकाला गया। मृतक मजदूर की पहचान अकबरपुर पितौझिया सारी गांव के जनक राम के पुत्र मनोज राम के रूप में की गई है। इसके अलावा जख्मी मजदूरों में उसी गांव के उपेंद्र सहनी व रंजन राम बताए गए हैं जिनका उपचार निजी अस्पताल में किया जा रहा है। उधर, घटना से आक्रोशित लोगों ने निर्माणाधीन मकान परिसर में एक झोपड़ी में आग लगा दी।

वहीं समस्तीपुर रोसड़ा-बाईपास सड़क को जाम कर दिया बाद में नगर पुलिस द्वारा समझाएं बुझाए जाने के बाद लोग सड़क से हटे। उधर शव निकाले जाने के बाद शव को लेकर पुलिस के अधिकारी जैसे ही आगे बढ़े की परिवार के लोगों ने शव छीन लिया। प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। लोगों का कहना था कि बचाव व राहत कार्य काफी विलंब से शुरू किया गया जिससे मजदूर को नहीं बचाया जा सकता। हालांकि मौके पर उपस्थित सीईओ धर्मेंद्र पंडित ने कहा कि घटना की सूचना के बाद ही दोपहर 12:00 बजे मौके पर जेसीबी के साथ मजदूरों को जमीन के अंदर दबे मजदूर को निकालने के लिए लगा दिया गया था। मिट्टी बलूआ होने के कारण बार-बार धंसना गिर रहा था।

करीब 20 फीट नीचे गड्‌ढे में दब गई थी मजदूर की लाश
मजदूर के शव को मिट्टी से बाहर निकालने के लिए जेसीबी की मदद ली जा रही थी मजदूर करीब 20 फीट नीचे गड्ढे में दबे थे जेसीबी से मिट्टी हटाने के दौरान चार चार दफा धंसना गिर गया जिससे दबे मजदूर को निकालने में करीब 4 घंटे का समय लगा। प्रशासनिक पहल पर दिन के करीब 12:00 बजे राहत कार्य शुरू हुआ। शाम के 4:00 बजे जाकर शव को निकाला जा सका। जेसीबी संचालक का कहना था कि चुकी मिट्टी बलूआ है और गिरी हुई है जिससे बार-बार धंसना गिर जा रहा था।

हाेटल संचालक करा रहा था विवाह भवन का निर्माण

बूढ़ी गंडक नदी की धार में एक होटल संचालक द्वारा विवाह भवन का निर्माण कराया जा रहा था। नदी की धारा से बिल्कुल सटे इस जगह पर सुबह मजदूर मनोज राम के साथ उसके सहयोगी शौचालय की टंकी बनाने के लिए गड्ढा कर रहे थे। लोगों ने बताया कि गड्ढा करने के दौरान अचानक धंसना गिर गया। इसमें मनोज व उपेंद्र साहनी दब गए हालांकि कुछ देर बाद उपेंद्र मिट्टी से बाहर निकल गया जबकि मनोज अंदर दब गया। हल्ला होने पर कार्य कर रहे एक अन्य मजदूर रंजन राम मनोज को निकालने का प्रयास करने लगा इसी दौरान पुनः धसना गिर गया।

जिसमें वह भी दब गया लेकिन किसी तरह लोगों ने रंजन को बाहर निकाल लिया। दूसरी और निर्माणाधीन मकान में धंसना गिरने की सूचना आसपास के क्षेत्र में फैलते ही बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ मौके पर जुट गई और निर्माणाधीन मकान परिसर में बनी एक झोपड़ी में आग लगा दी। समस्तीपुर रोसड़ा- बाईपास सड़क को जाम कर दिया। जिसके बाद पुलिस पदाधिकारी जेसीबी आदि लेकर मौके पर पहुंचे तब जाकर करीब 12:00 बजे से राहत कार्य शुरू हुआ।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें