पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जांच कार्रवाई:चिराग को प्रशासन का आशीर्वाद, जुटाई भीड़, क्योंकि कोरोना गाइडलाइन की हुई अनदेखी

समस्तीपुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आशीर्वाद यात्रा के क्रम में समस्तीपुर पहुंचे एलजेपी नेता चिराग पासवान ने केंद्रीय मंत्रिपरिषद में नीतीश कुमार के संरक्षण में अपने चाचा पशुपति कुमार पारस के मंत्री बनाए जाने से जेडीयू में बड़ी टूट की संभावना जताई है। उन्होंने कहा कि बिहार में मध्यावधि चुनाव होना सौ फीसदी तय है। चिराग पासवान समस्तीपुर के पटोरी, चकलालशाही के रास्ते एलजेपी कार्यकर्ताओं से मुलाकात करते हुए समस्तीपुर परिसदन पहुंचे थे जहां उन्होंने प्रेस वार्ता को सम्बोधित किया।

चिराग ने लोजपा में हुई टूट के लिए सीधे तौर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि उन्होंने मुझसे व्यक्तिगत रंजिश निकालने के लिए अपनी पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं जिसमें सबसे प्रमुख ललन सिंह, रामनाथ ठाकुर, के सी त्यागी जैसों को दरकिनार कर हमारे चाचा को मंत्री बनवाने का काम किया है।

उससे साफ है कि अब उनकी पार्टी में एक बड़ी टूट होने जा रही है। रिसदन में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान ही पार्टी से अलग हुए कई नेता जिसमे अनुपम कुमार सिंह उर्फ हीरा सिंह,संतोष पासवान भी अपने समर्थकों के साथ एलजेपी में शामिल हो गए। इस मौके पर पार्टी के प्रवक्ता अशरफ अंसारी, शाहनवाज अहमद कैफ़ी,भरत सिंह, सुंदेश्वर राम समेत कई नेता मौजूद थे। चिराग की आशीर्वाद यात्रा में सैकड़ों लोगों की भीड़ जुटी।

ऐसे में कोरोना के खतरे की आशंका है। डीएम शशांक शुभंकर ने कहा कि आशीर्वाद यात्रा की अनुमति नहीं ली गई है। इसकी जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...