पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समस्तीपुर में युवक से लूट:ATM से कैश निकालकर घर लौट रहा था युवक, बदमाशों ने हथियार के बल पर पहले 20 हजार लूटे, फिर उसके कार्ड से 50 हजार कैश निकाला

समस्तीपुर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
न्याय की गुहार लगाने थाने पहुंचा युवक। - Dainik Bhaskar
न्याय की गुहार लगाने थाने पहुंचा युवक।

समस्तीपुर में बाइक सवार दो बदमाशों ने एक युवक से 20 हजार रुपए लूट लिए। घटना दलसिंहसराय थाना क्षेत्र ढेपुरा शिव मंदिर के पास की है। युवक अपने जीजा के ATM कार्ड से 20 हजार निकासी कर घर लौट रहा था, तभी बाइक सवार बदमाशों ने हथियार के बल पर लूटपाट की। यहीं नहीं बदमाशों ने युवक का ATM कार्ड भी छिन लिया और उससे भी 50 हजार रुपए निकासी कर ली। घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया और आसपास के लोगों की भीड़ लग गई।

इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और छानबीन में जुट गई। थानाध्यक्ष कुमार ब्रजेश ने बताया कि घटना की जानकारी हुई है। युवक से आवेदन मिलने पर जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। पीड़ित युवक बेगूसराय जिला के बछवाड़ा थाना क्षेत्र के रसीदपुर गांव निवासी भूषण साह के पुत्र वेद प्रकाश है।

पिस्टल दिखाकर रोक लिया

वेद प्रकाश ने बताया कि वह अपने जीजा जी के ATM कार्ड से दलसिंहसराय बस स्टैंड के पास स्थित HDFC बैंक के ATM मशीन से 20 हजार रुपए की निकासी कर अपनी बाइक से घर लौट रहा था। इसी दौरान ढेपुरा शिव मंदिर के समीप पीछे से एक बाइक पर सवार दो युवकों ने पिस्टल दिखाते हुए रुकने का इशारा किया। पिस्टल देखकर डर गए और बाइक रोक दिया। जब तक कुछ समझ पाते तब तक दोनों पिस्टल दिखाते हुए जेब में रखा 20 हजार रुपए व ATM कार्ड लूट लिया। इसके बाद हथियार के बल पर कार्ड का पासवर्ड पूछा। जान के डर से मैंने पासवर्ड बता दिया। जब तक ATM कार्ड को लॉक करवाता तब तक उसमें 50 हजार रुपए भी बदमाशों ने निकाल लिया।

इधर, घटना के बाद युवक दलसिंहसराय थाना आकर घटना की सूचना दी। थाना पर ओडी डयूटी में बैठे पुलिस पदाधिकारी अमरेंद्र कुमार द्विवेदी के साथ मौजूद दारोगा शिव शम्भू प्रसाद व शिव कुमार त्रिपाठी ने तरह-तरह के सवाल पूछते हुए बैंक से स्टेटमेंट लाने की बात कहकर उसे लौटा दिया। दोपहर में जब युवक फिर अपने पिता के साथ आया तो वहां पर मौजूद पुलिस पदाधिकारी ने युवक से ही फिर से तरह तरह के सवाल पूछते हुए उसे ही दोषी ठहराते हुए किसी तरह घर भेजने पर आमादा थे। काफी शोरगुल के बाद स्थानीय लोगों की पहल पर युवक से घटना को लेकर आवेदन देने की बात कही गई।

खबरें और भी हैं...