EO को थप्पड़ मारने वाले सफाईकर्मी की संदिग्ध मौत:पुलिस पिटाई से बिगड़ गई थी तबीयत, PMCH में इलाज के दौरान गई जान

समस्तीपुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राम सेवक राय की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
राम सेवक राय की फाइल फोटो।

समस्तीपुर के रोसड़ा नगर परिषद के सफाईकर्मी राम सेवक राय की शुक्रवार को इलाज के दौरान पटना के पीएमसीएच में मौत हो गई। यह खबर मिलने के बाद पांचूपुर गांव में मातम छा गया है। परिजन उसके शव को लेकर पटना से रोसड़ा लौट रहे हैं।

बीते शुक्रवार को रोसड़ा नगर परिषद के EO जयचंद्र अकेला को थप्पड़ मारने के आरोप में राम सेवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद रविवार की शाम हाजत में सफाईकर्मी की तबीयत अचानक बिगड़ गई। बाद में पुलिस उसे इलाज के लिए रोसड़ा अनुमंडलीय अस्पताल ले आई। यहां इलाज के दौरान डॉक्टरों ने उसे सदर अस्पताल समस्तीपुर रेफर कर दिया।

(देखें VIDEO, जब सफाईकर्मी ने अफसर को लगाया तमाचा)

सदर अस्पताल समस्तीपुर के चिकित्सकों ने उसे डीएमसीएच फिर डीएमसीएच के डॉक्टरों ने पीएमसीएच पटना रेफर कर दिया। राम सेवक के परिजन उन्हें पटना ले जाने के बजाए वापस रोसड़ा ले आए थे। रोसड़ा थाने में तोड़फोड़ व हंगामा के बाद रामसेवक को उसके घर के लोग बीते बुधवार को वापस इलाज करवाने के लिए पीएमसीएच पटना लेकर चले गए थे।

4 महीने से वेतन नहीं मिला तो जड़ा थप्पड़

मौत की खबर सुनते ही रोसड़ा डीएसपी सहरियार अख्तर थाने पहुंचे। साथ ही, बुधवार को हुई घटना के मद्देनजर उन्होंने समस्तीपुर से अतिरिक्त पुलिस बल मंगवाकर थाना को हाईअलर्ट पर रखा है। शव के रोसड़ा पहुंचने पर किसी प्रकार का उपद्रव न हो, इसके लिए पुलिस प्रशासन चौकस है। SP मानवजीत सिंह ढिल्लो ने राम सेवक की मौत होने की पुष्टि की और कहा- मजिस्ट्रेट जांच के लिए डीएम को लिखा गया है।

इससे पहले बुधवार को सफाईकर्मी को ठेला पर रखकर सैकड़ों समर्थकों के साथ लोग लाठी-डंडे से लैस होकर नारेबाजी करते हुए घर से रोसड़ा थाना परिसर में लाए। सैकड़ों की संख्या में पहुंची महिला एवं पुरुषों ने थाने को घेरकर तोड़फोड़ शुरू कर दी। कार्यालय में घुसकर कागजातों, कई सरकारी सामानों को नष्ट करते हुए तोड़फोड़ किया। इसके बाद नगर परिषद कार्यालय पर आगजनी भी की थी।