आरोप:सूबे के विश्वविद्यालयों में दिया जा रहा है भ्रष्टाचार को बढ़ावा : आईसा

समस्तीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रेस कान्फ्रेंस करते आईसा नेता। - Dainik Bhaskar
प्रेस कान्फ्रेंस करते आईसा नेता।
  • आईसा ने की प्रेसवार्ता, 22 दिसंबर को विवि बंद कराने का आह्वान किया

आईसा की ओर से राज्य के विश्वविद्यालयों में व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर राजभवन व राज्य सरकार को दोषी ठहराते हुए इसको लेकर 22 दिसंबर को विवि बंद कराने का आह्वान किया गया है। इसको लेकर मंगलवार को एक कार्यक्रम के दौरान संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष सुनील कुमार ने कहा कि राजभवन और राज्य सरकार के प्रत्यक्ष नेतृत्व में पूरे राज्य के विश्वविद्यालय में भ्रष्टाचार को बढ़ावा दिया जा रहा है। 15 दिन बीत जाने के बाद भी विवि के भ्रष्टाचार की जांच शुरू नहीं हुई है। इससे साफ-साफ दिख रहा है कि भ्रष्टाचारियों को खुलेआम सरकार का समर्थन है। इसको लेकर नेता ने राज्य सरकार और राज्यपाल को तत्काल इस्तीफा देने की मांग की। वहीं अन्य वक्ताओं ने राज्य के विश्वविद्यालयों में भ्रष्टाचार को चरम पर बताया। कहीं कुलपति तो कहीं कुलसचिव के नेतृत्व में भ्रष्टाचार बढ़ रहा हैं। मौके पर आइसा जिलाध्यक्ष लोकेश राज, उपाध्यक्ष रौशन कुमार, द्रखशा जवी, प्रदेश उपाध्यक्ष प्रीति कुमारी, मनीषा कुमारी, संजीव कुमार, अभिषेक चौधरी, अनिल कुमार, उदय कुमार आदि ने अपना संबोधन दिया। बताया गया कि आंदोलन को लेकर 10 दिसंबर को नागरिक सम्मेलन व 22 दिसंबर को पूरे राज्य में विश्वविद्यालय बंद की घोषणा की गई है। जिसे सफल बनाने को लेकर जगह-जगह मीटिंग आयोजित की जाएगी।

खबरें और भी हैं...