पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बाढ़ का कहर:सिंघिया में बाढ़ की वजह से लोगों की बढ़ती जा रहीं मुश्किलें नाव नहीं रहने से घरों में कैद रहना बाढ़ पीड़ितों की मजबूरी

सिंघिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बाढ़ राहत की आस में बाढ़ पीड़ित किसी तरह चूड़ा, सत्तू खाकर समय बिताने को हैं विवश, सड़कों पर 3-4 फीट पानी

प्रखंड क्षेत्र में विगत 15 से अधिक दिनों से कमला, करेह व जीवछ नदी की त्रासदी झेल रहे लोगों की चिंताएं बढती ही जा रही है। नदियों लगातार हो रही पानी की इजाफा कारण बाढ़ की कहर बढ़ती ही जा रही है। अब लोगों को बाढ़ को लेकर भय सताने लगा है। क्षेत्र में बढ़ते पानी का दवाब ने बाढ़ प्रभावित लोगों सामने मुशीबत खड़ी कर दी है। प्रखंड के अधिकांश पंचायतों में लोगों के घरों पानी प्रवेश कर गया है। घर में पानी घुसने के कारण पीड़ित परिवारों के सामने भोजन, पानी के साथ पशु चारा की समस्या की समस्या उत्पन्न हो गई है।

प्रखंड क्षत्र में नाव की समस्यां से जूझ रहे लोगों को गांव व घरों से निकलना खतरनाक होता जा रहा है। कई प्रभावित गांवों का सड़क संपर्क पूरी तरह से बंद हो गया है। स्थिति यह है गांव तक पहुंचने वाली सड़क बाइक, चार पहिया गाड़ी 15 दिन पूर्व फर्राटे के साथ दौड़ती थी। विडंबना यह है बाढ़ की त्रासदी झेल रहे सड़कों पर तीन से चार फिट से अधिक पानी बह रहा है। इस विकट परिस्थिति में प्रभावित क्षेत्र के गांवों के लोग बेवश व लाचार बने हुए है।
विकट समस्याओं से जूझ रहे है बाढ़ पीड़ित परिवार

बाढ़ की पानी की कहर के बीच कई समस्याओं से बाढ़ पीड़ितों को जूझना पर रहा है। बाढ़ पीड़ितों के अनुसार अब भोजन, आवास, पेयजल, शौचालय के साथ मेडिकल असुविधाएं बनी हुई है। खुले आसमान के नीचे सड़क, बांध, स्कूल, गांव के ऊंचे स्थानों पर शरण लेने के लिए विवशता बनी हुई है। दिन प्रति दिन ऊंचे स्थानों पर बढ़ते प्रभावित परिवार की संख्या को पन्नी उपलब्ध करना स्थानीय प्रशासन के लिए चुनौती बनी हुई है। स्थानीय प्रशासन की ओर बाढ़ पीड़ित परिवारों के लिए किसी भी पंचायत में सामुदायिक किचन की व्यवस्था नहीं की गई है। इस कारण पीड़ित परिवार के सामने भोजन की समस्याएं उत्पन्न होने लगी है। राहत की आस में बाढ़ पीड़ित किसी तरह चूड़ा, सत्तू खाकर समय कटाने को विवश है।

बाढ़ पीड़ितों को प्रशासन की ओर से पन्नी उपलब्ध कराया गया है। बाढ़ पीड़ितों की बढ़ती संख्या को लेकर पंचायत में निमित पदाधिकारी के मांग के अनुरूप पन्नी कराइ जा रही है। वही पंचायत से मिली सूचि के अनुसार आज तक 1079 पीड़ित परिवार के बैंक खाते में सहायता राशि भेजी गई। पंचायतों में बाढ़ पीड़ितों की सूचि तैयारी करने की प्रक्रिया जारी है। सूचि मिलते पीड़ितों को शीघ्र सहायता राशि भेजी जाएगी।
- संतोष कुमार, सीओ, सिंघिया

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें