पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ये तस्वीर बदलनी चाहिए:8:30 से 12:30 बजे तक डॉक्टरों को ओपीडी में करना है मरीजों का उपचार, कई विभागों में सुबह 10 बजे तक नहीं पहुंचे थे डॉक्टर

समस्तीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सुबह 8:30 बजे ओपीडी खुलते ही कर्मियों का शुरू हो गया आना 10:30 बजे शिशु व आई ओपीडी में सीट पर नहीं थे डॉक्टर

सदर अस्पताल के ओपीडी में मंगलवार सुबह स्थिति कुछ हदतक समान्य दिखी। ओपीडी खुलने के समय 8.30 बजे ओपीडी का गेट खुलते ही कर्मचारियों का आना शुरू हो गया। इससे पूर्व सफाई कर्मी साफ सफाई का कार्य कर चुका था। मरीजों का आना भी शुरू हो चुका था। लेकिन दिन के 10.30 बजे तक शिशु व आयी ओपीडी में का चेंबर खाली था। दोनों स्थानों पर डॉक्टर कक्ष में नहीं थे। डॉक्टर से मिलने के लिए लाइन में लगे लोगों को बताया गया कि डाॅक्टर साहेब हाजिरी बनाने गए हुए हैं।

दिन 11 बजे तक दोनों नहीं लोटे थे। जबकि ओपीडी में सुबह 8.30 से 12.30 बजे तक चेंबर में रहना है। 8.42 बजे पुर्जा कटाने वाली खानपुर की सरस्वती देवी ने बताया कि वह अपने पोते को डॉक्टर से दिखाने के लिए करीब नौ बजे ओपीडी में हैं। लेकिन अबतक डॉक्टर साहेब नहीं आए हैं। उधर, आयी ओपीडी के बाहर भी कई लोग डॉक्टर के आने का इंतजार कर रहे थे। अस्पताल में 45 तहत की दवा ओपीडी में मिल रहा है।
11 बजे तक जांच नहीं करा पाए : आईओपीडी में दिन के 11 बजे तक नहीं आए ऑन ड्यूटी डॉक्टर पवन कुमार, शिशु ओपीडी में खुला था चेंबर,नहीं थे डॉक्टर आईओपीडी में डॉ पवन कुमार की ड्यूटी थी। ओपीडी में कर्मी नील मणि समय पर ओपीडी में पहुंचे हुए थे। लेकिन डॉक्टर साहेब दिन के 11 बजे तक नहीं पहुंचे थे। आंखों की जांच कराने आए मरीज भटक रहे थे

भास्कर लाइव : सीएस बोले-ऑन ड्यूटी डॉक्टर सीट पर क्यों नहीं, इसकी जांच होगी

जनसंख्या के हिसाब से जिले में नहीं है स्वास्थ्य सब सेंटर

स्वास्थ्य विभाग के प्रावधान के अनुसार पांच हजार की आबादी पर एक सब सेंटर होना चाहिए था। लेकिन में 692 सब सेंटर स्वीकृत हैं और कार्यरत हैं मात्र 362 सब सेंटर। 2011 के जनगणना के अनुसार जिले की आबादी करीब 40 लाख है। इस हिसाब से जिले में कम से कम 8 हजार सब सेंटर होना चाहिए था। जिससे लोगों को जरूरत पड़ने पर तत्काल चिकित्सीय सहायता मिल पाता। लोगों को जिला अस्पताल जाने की जरूरत नहीं पड़ती।

डॉक्टर को नोटिस देकर जवाब मांगेंगे : सीएस

ओपीडी में समय पर जो-जो डॉक्टर नहीं पहुंचे हैं। डॉक्टरों के नहीं आने का कारण पूछा जा रहा है। आज फिर आईओपीडी में डॉक्टर नहीं हैं। आॅन ड्यूटी अपने-अपने पर सीट क्यों नहीं हैं इसकी जांच होगी। जांच में जो दोषी होगा, उस पर कार्रवाई की जाएगी। कार्य में लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी।
-सत्येंद्र कुमार गुप्ता, सिविल सर्जन

10 बजे शुरू हो गया था डिजिटल एक्सरे

मंगलवार को दिन के दस बजे सदर अस्पताल के डिजिटल एक्सरे करने का काम चल रहा था। केंद्र के कर्मी भी समय पर आ गए थे। जिस कारण आज एक्सरे कराने वालों की भीड़ कम थी। कर्मियों के नहीं आने के कारण एक्सरे कार्य शुरू नहीं हो पाया था। आरटीआई एसटीआई केंद्र, आईओपीडी, शिशुरोग, फिजियोथैरेपी केंद्र, रक्त जांच कक्ष, दंत रोग कक्ष में 10 बजे तक डॉक्टर नहीं आए थे। वहीं मरीज बाहर बैठकर डॉक्टर का इंतजार कर रहे थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser