पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नवरात्र:अंकुरित महादेव मंदिर से प्रसिद्ध हरिहरपुर खेढ़ी धाम मंदिर में है मां का दरबार, यहां मिथिला पद्धति से होती है माता की पूजा

समस्तीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आस्था का केंद्र है हरिहरपुर खेढ़ी धाम, सच्चे मन से मन्नते मांगने वालों की मनोकामनाएं पूर्ण होती है

अंकुरित महादेव मंदिर से प्रसिद्ध हरिहरपुर खेढ़ी धाम मंदिर परिसर अवस्थित माता दुर्गा की महिमा अपरंपार है। इसी परिसर में अंकुरित बाबा भोलेनाथ की सैकड़ों वर्ष पुरानी मंदिर के अलावे भगवान श्री गणेश, बाबा बजरंग वली व माता दुर्गा की मंदिर है। श्रद्धालुगण यहां बड़ी आस्था और मन्नत के साथ माता के दर्शन करने आते हैं। सच्चे मन से मन्नते मांगने वाले भक्तों की मनोकामनाएं पूर्ण होती है। नवरात्र के अवसर पर मन्दिर में आकर्षक सजावट की जाती है। ग्रामीणों से सहयोग से हर वर्ष बड़े ही उल्लासपूर्वक भगवती की पूजा की आराधना की जाती है। यहां मिथिला पद्धति से माता की पूजा अर्चना की जाती है। यहां बलि प्रदान की व्यवस्था नहीं है।

हरिहरपुर खेढ़ी धाम मंदिर परिसर में भगवान श्री गणेश, बाबा बजरंग बली व माता दुर्गा का है मंदिर

निशा पूजा में 56 प्रकार के व्यंजनों का लगता है भोग

दुर्गा पूजा कमेटी के अध्यक्ष रामउदित चौधरी ने बताया कि हर वर्ष माता की पूजा अराधना ग्रामीणों के जन सहयोग से उल्लासपूर्वक किया जाता है। इस दौरान ग्रामीणों का सहयोग रहता है। निशा पूजा में 56 प्रकार के व्यंजनों का भोग लगाया जाता है।

मां की महिमा अपरंपार है, अष्टमी को जुटती है महिलाओं की भीड़

माता दुर्गा के मन्दिर में आने वाले सभी भक्तो की मुरादें यहां पूरी होती है। यहां ऐसी मान्यता है की जो भी भक्त सच्चे हृदय से मां को पूजा-अर्चना करते है, उनकी हर मनोकामना पूरी होती है। नवरात्र में संध्या आरती के समय सैकड़ों श्रद्घालुओं की काफी संख्या में भीड़ जुटती है। सप्तमी तिथि को माता का नेत्र पट खुलने के बाद अष्टमी तिथि को खोईछा भरने के लिए महिलाओं की अपार भीड़ जुटती है। यहां मिथिला पद्धति के अनुसार माता की पूजा अराधना की जाती है।मंदिर में संध्या आरती एवं भजन-कीर्तन पूरे नवरात्र में किया जाता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें