पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही:कोरोना की चेन तोड़ना होगा मुश्किल, शटर उठाकर कपड़े की होती है बिक्री

समस्तीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शहर के मारवाड़ी बाजार, बसंत मार्केट की स्थिति सबसे बुरी : ईद की खरीदारी को लेकर कपड़ा व रेडिमेड दुकानदारों के यहां पौ फटते ही जुटने लगते हैं ग्राहक

शहर में लॉक डाउन के नियमो का पालन नहीं करना बड़ा खतरे का संकेत हैं। बाजार में समान्य दिनों की तरह दुकानें खुल रही है। जहां ग्राहकों की भीड़ कोरोना के चेन को तोड़ने के बजाय जोड़ने का काम कर रही है। लॉक डाउन के दौरान जरूरी सामान जैसे दवा, दूध, किराना के अलावा फल, सब्जी की दुकानों को खोलना है लेकिन शहर में ऐसा देखने को नहीं मिलता। सुबह से ही बाजार में भीड़ जुट जाती है। दिन के 11 बजे के बाद दुकानें खुली थी।

स्टेशन रोड

सुबह 9.35 बजे शहर के थानेश्वर रेल ब्रिज काली मंदिर के पास रेडिमेड कपड़ा व बैग आदि की दुकानें खुली हुई थी। दुकान ग्राहक को बैग आदि दिखा रहे थे। पास रेडिमेड कपड़े की दुकान में भी ग्राहक जींस की खरीदारी कर रहे थे। दोनों दुकानदारों से दुकान खाले जाने का कारण पूछा गया तो जबाव मानों सोचा हुआ था। कपड़ा पहना जरूरी है।

इन जगहों पर भी खुली मिली गैर जरूरी सामान की दुकानें : मारवाड़ी बाजार, बसंत मार्केट, स्टेशन चौक, गुदरी बाजार, मूलचंदरोड , रामबाबू चौक से गणेश चौक जाने वाली सड़क, आर्य समाज रोड, काशीपुर चौक, आजाद चौक, मगरदहीघाट रोड, बहादुरपुर चौक, पुरानी दुर्गा स्थान चौक , पेठीया गाछी आदि

^दुकानदारों द्वारा लॉक डाउन के नियमो का पालन नहीं किए जाने की सूचना मिली है। जिसके बाद शहर में नगर पुलिस के साथ ईओ द्वारा छापेमारी कराई गई है। बसंत मार्केट व मारवाड़ी बाजार में छह खुली दुकानों को सील कर दिया गया है। दुकानदार पर सरकारी आदेश की अवहेलना की प्राथमिकी दर्ज होगी। -रवीद्र कुमार दिवाकर, सदर एसडीओ

खबरें और भी हैं...