परेशानी:खेतों व घर के आगे-पीछे हुए जलजमाव से लोग परेशान

समस्तीपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ‌बरहेता पंचायत के वार्ड संख्या-8 का मामला, खेती पर संकट, ध्यान नहीं दे रहे हैं जिम्मेदार

प्रखंड अंतर्गत ‌बरहेता पंचायत के वार्ड संख्या 8 में दलित बस्ती में जलजमाव से लोग परेशान हैं। वहीं दूसरी ओर पुरुषोत्तमपुर पंचायत के निचले हिस्से के खेतों में एवं घर के आगे जलजमाव के कारण लोग परेशान हैं। स्थानीय ग्रामीणों का बताना है कि चक्रवाती तूफान के बाद आई बारिश से हर जगह जलजमाव की स्थिति बनी हुई है। वहीं एक बार फिर से कल्याणपुर प्रखंड क्षेत्र में चक्रवाती गुलाब की लहर शुरू होते ही किसानों में भय व्याप्त है। किसानों को तोरी की बुनाई एवं दलहन की बुनाई पर ग्रहण लगता दिख रहा है।

दूसरी ओर घर के आगे में खेत में जलजमाव होने के कारण सांप कीड़ा का डर भी लोगों को सता रही है। लोगों का कहना है कि अगर स्थानीय प्रशासन द्वारा सही से जल निकासी नहीं की जाएगी तो तेलहन, दलहन एवं रबी फसल नहीं होने पर किसान का जीवन व्यतीत करना भी मुश्किल हो जाएगा। वहीं रुक-रुक कर आ रही बारिश के कारण कल्याणपुर प्रखंड क्षेत्र में किसान मायूस है। जलजमाव से निजात के लिए स्थानीय प्रशासन की ओर कोई ठोस पहल नहीं की जा रही है। इस संबंध में बरहेता पंचायत के वार्ड संख्या 10 में अधिक वर्षा होने पर लोगों के घर में पानी प्रवेश कर जाती है। वहीं दूसरी ओर केले की खेती एवं सब्जी की खेती करने वाले किसान नवीन देव, दुखा दास, विजय दास, सोनू देव, रामबाबू दास, विशेषर दास ने बताया कि अधिक बारिश के कारण सब्जी की खेती पर आफत बन गई है केले की बागान में भी जलजमाव के कारण केले का पौधा सूखने शुरू हो गया है एवं केला पीला हो रहा है। दूसरी ओर आम लीची के बागान में भी जलजमाव के कारण कुछ पेड़ सूखने भी लगे हैं।

निचले हिस्से में जलजमाव के कारण लोग सड़क पर पशु बांधने के लिए मजबूर हैं। स्थानीय ग्रामीणों को गांव घरों में जाने के लिए व बाइक सवार को सड़क पर पशु बांधने के कारण जर्जर सड़क होकर घूम कर जाने को मजबूर हैं। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि जल निकासी नहीं होने के कारण काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है । स्थानीय प्रशासन से टेलीफोन पर कुछ कहने पर बताया जाता है जो पंचायत चुनाव के बाद अभी आचार संहिता लागू है।

खबरें और भी हैं...