समीक्षा / आंगनबाड़ी केंद्रों पर जून में होगी योजना कार्य की जांच, काम अधूरा रहने पर होगी कार्रवाई

कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक के दौरान मौजूद सीडीपीओ। कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक के दौरान मौजूद सीडीपीओ।
X
कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक के दौरान मौजूद सीडीपीओ।कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक के दौरान मौजूद सीडीपीओ।

  • योजनाओं को लेकर 31 मई तक सभी बैकलॉग को पूर्ण करने का दिया निर्देश

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

समस्तीपुर. कलेक्ट्रेट सभागार में शनिवार को आंगनबाड़ी केन्द्रों पर चल रहे सरकारी योजनाओं की प्रगति को लेकर समीक्षा बैठक की गई। एडीएम पीजीआरओ राजीव रंजन सिन्हा की अध्यक्षता में डीपीओ आईसीडीएस ममता वर्मा ने बारी-बारी से सभी सीडीपीओ के कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान बताया गया कि लॉक डाउन के दौरान भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन व मॉस्क लगाते हुए केन्द्रों पर जारी योजनाओं को पूरा करना है। इसको लेकर आगामी जून माह में सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों पर योजना से संबंधित कार्यों की जांच की जाएगी। वहीं काम पूरा नहीं होने की स्थिति में उसके लिए जिम्मेवार आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, एलएस व सीडीपीओ पर भी कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान एडीएम पीजीआरओ ने पीएमएमवीवाय, एमकेयूवाय, एनएनएम आदि योजनाओं से संबंधित सभी बैकलॉग को 31 मई तक पूरा करने का निर्देश दिया। बैठक में स्वस्थ भारत प्रेरक अतुल दास, अभिकल्प मिश्रा, कुमारी स्वाति, निशु कुमारी व सभी सीडीपीओ मौजूद थी। 
घर-घर जाकर बच्चों को करेंगी शिक्षित
इस दौरान डीपीओ ने सभी आंगनबाड़ी सेविकाओं को घर-घर जाकर बच्चों को औपचारिक शिक्षा देने का निर्देश दिया। इसके लिए रोस्टर तैयार करने को कहा गया। वहीं गर्भवती महिलाओं को उनके घरों पर ही स्वास्थ्य संबंधित सलाह देने की बात कही।
प्रशिक्षण देकर केंद्र संचालन का निर्देश
वहीं जिले की अप्रशिक्षित सेविकाओं को दो दिवसीय प्रशिक्षण देकर केंद्र संचालित करने का निर्देश दिया गया। साथ ही सेविका व सहायिका से संबंधित रिक्तियों के विरूद्ध चयन के लिए विज्ञापन का प्रस्ताव भेजने व प्रक्रिया पूरा करने की बात कही गई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना