परेशानी:अजना पंचायत के वार्ड चार के लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध नहीं, हो रही परेशानी

समस्तीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अजना पंचायत के वार्ड 4 में लोगों को शुद्ध पेयजल नहीं मिल पर रहा है। - Dainik Bhaskar
अजना पंचायत के वार्ड 4 में लोगों को शुद्ध पेयजल नहीं मिल पर रहा है।
  • नल जल बनने के बावजूद नहीं मिल रहा पीने का पानी, योजना का फायदा नहीं मिल रहा है

प्रखंड अंतर्गत अजना पंचायत के वार्ड संख्या 4 में मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना अंतर्गत नल जल से 20 लोगों को मात्र शुद्ध पेयजल मिल पा रहा है। स्थानीय लोगों का बताना है कि लगभग 500 लोगों का जनसंख्या होने के बावजूद नल जल की शुद्ध पेयजल से वंचित रखा गया है। वहीं चार नंबर वार्ड के पूर्व वार्ड सदस्य अमृता शर्मा के दरवाजे पर जलमीनार बन जाने पर स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा सुचारू रूप से नल जल हर घर शुद्ध पेयजल के नहीं पहुंचने से स्थानीय ग्रामीणों ने इसका विरोध किया।

इसमें स्थानीय ग्रामीण शशि भूषण शर्मा, उमाशंकर शर्मा, चंदन कुमार, नगीना देवी, शकुंतला देवी, चंदेश्वर ठाकुर ,सुरेंद्र शर्मा ने बताया कि बिहार सरकार का यह नल जल योजना जीपीएस लग जाने के बावजूद 450 लोगों की जनसंख्या वाले वार्ड संख्या 4 में रहते हुए नल जल की शुद्ध पानी नहीं मिलने से लोगों को खरीद कर शुद्ध जल पीने पर मजबूर हैं। ग्रामीणों का बताना है कि निजी जमीन पर जल मीनार बन जाने के कारण समस्तीपुर न्यायालय में विगत 9 महीने से मामला भी चल रहा है।

शुद्ध पानी खरीदकर पीने के लिए विवश हो गए हैं लोग, लेकिन ध्यान नहीं दे रहे हैं जिम्मेदार

वहीं लंबित केस के कारण स्थानीय ग्रामीण सोनू कुमार ,चतुर्भुज ठाकुर, श्रीमान कुमार, राजेश कुमार ने बताया कि शुद्ध पानी वार्ड संख्या 4 के फुलहरा गांव में लोग खरीद कर पी रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना पेयजल का लाभ हम लोगों को नहीं मिलने से करीब 13 लाखों से अधिक रुपए की लागत से बिहार सरकार की बनी यह जल मीनार की सुविधा से लोग को वंचित हैं। कई बार स्थानीय प्रशासन से भी लोगों ने गुहार लगाई। इस संदर्भ में बीडीओ धर्मवीर कुमार प्रभाकर ने बताया कि ग्रामीणों के आपसी विवाद के कारण कल्याणपुर थाने में मामला दर्ज है।

खबरें और भी हैं...