पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

प्रवासी मजदूरों को घर पर रोजगार:शुरू हुई नाव फैक्ट्री; 16 प्रवासी मजदूर खुद मालिक व मजदूर के रूप में कर रहे हैं काम, एक नाव ~30-32 हजार में बिकेगी

समस्तीपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मोहिउद्दीननगर के दशहरा में नाव व फर्नीचर बनाने का शुरू हुआ काम

जिले के मोहिउद्दीननगर के दशहरा गांव में प्रवासी मजदूरों द्वारा खड़ी की गई नाव फैक्ट्री (दशहरा वोट निर्माण एलएलपी) में 16 प्रवासी मजदूर खुद मालिक व मजदूर के रूप में काम कर रहे है। मजदूरों ने तीन नाव का निर्माण भी कर लिया है। एक नाव 30-32 हजार रुपए में बिकेगी। एक सामान्य नाव बनने में तीन से चार दिनों का समय लग जाता है। जिला उद्योग केंद्र के माध्यम से उत्पाद की बिक्री के लिए बाजार भी विकसित किया जा रहा है। उद्योग केंद्र के जीएम विनय कुमार मल्लिक ने बताया कि सरकार की ओर से पहली किस्त के रूप में सात लाख रुपए का भुगतान कर दिया गया है। फैक्ट्री शुरू होने से प्रवासी मजदूरों को घर पर काम मिलने लगा है। इसके अलावा इसी गांव में सुधा डेयरी के सहयोग से नाव क्लस्टर योजना की शुरुआत की गई है।

इन क्षेत्रों में भी प्रवासी मजदूरों को मिलेगा काम दुधपूरा में खुलेगी रेडीमेड गारमेंट की फैक्ट्री
शहर से सटे दूधपुरा गांव में रेडीमेड गार्मेंट की फैक्ट्री को मंजूरी मिल चुकी है। यहां 13 प्रवासी मजदूरों की यूनिट बनाई गई है सभी लोग सूरत में कपड़ा फैक्ट्री में काम करते थे। इस यूनिट को काम शुरू करने के लिए राशि का भुगतान किया जा रहा है। अगले सप्ताह से काम शुरू हो जाएगा।
सरायरंजन के बरबट्‌टा में सहकारी उडेन फर्नीचर : जीएम ने बताया कि सरारंजन के बरब‌ट्‌टा गांव में हैदराबाद आदि जगहों से आए 12 प्रवासी मजदूरों का ग्रुप बनाया गया है। सभी प्रवासी मजदूर लकड़ी का फर्नीचर बनाने में निपुन है। यूनिट का डीएम की मंजूरी मिल चुकी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें