लगाया आरोप / माध्यमिक विद्यालयों का अधिग्रहण कर वेतन देने की मांग पर शिक्षक व कर्मियों ने किया उपवास

अधिग्रहण को लेकर उपवास पर मौजूद शिक्षक व कर्मी अधिग्रहण को लेकर उपवास पर मौजूद शिक्षक व कर्मी
X
अधिग्रहण को लेकर उपवास पर मौजूद शिक्षक व कर्मीअधिग्रहण को लेकर उपवास पर मौजूद शिक्षक व कर्मी

  • 10 वर्षों से केवल शिक्षण संस्थान खोलने की घोषणा का राज्य सरकार पर लगाया आरोप

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

समस्तीपुर. राज्य में संचालित प्रस्वीकृत व स्थापना की अनुमति प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षक व कर्मियों ने शनिवार को परिवार के साथ घरों में सीएम के समक्ष उपवास रखा। उपवास रखने वालों में परशुराम उच्च विद्यालय नंदनी की एचएम नीरू कुमारी, बंगरा उच्च विद्यालय के एचएम अजीत कुमार सिंह आदि ने बताया कि सरकार 2950 माध्यमिक विद्यालयों में नवमीं कक्षा की पढ़ाई शुरू करने के लिए आधारभूत संरचना विहीन मध्य विद्यालयों को उच्च विद्यालय में उत्क्रमित कर रही है। जबकि पूर्व से ही 715 पंचायतों में संचालित प्रस्वीकृत व स्थापना की अनुमति प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों का अधिग्रहण किया जाना चाहिए। बताया गया कि वहां शिक्षकों को नियत वेतन या मानदेय दिया जाना चाहिए। बिहार प्रदेश माध्यमिक शिक्षक-शिक्षकेत्तर कर्मचारी महासंघ की ओर से राज्य सरकार पर 10 वर्षों से केवल शिक्षण संस्थान खोलने की घोषणा का आरोप लगाया गया है। जबकि जमीन के अभाव में एक भी संस्था का निर्माण नहीं कराया जा सका है। उपवास में सोनी कुमारी, आभा कुमारी, राम कुमार ठाकुर, दिनेश कुमार, मनोरंजन राय, आकाश सहित जिले के सभी वित्त रहित स्कूल के कर्मी शामिल थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना