पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आफत:23 दिनों से विकट समस्याओं के बीच जूझ रहे बाढ़ पीड़ितों की हालत दयनीय, प्रशासन मौन

सिंघिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सिंघिया में दो दिनों से कमला, जीवछ नदी का जलस्तर बना हुआ स्थिर

विगत दो दिनों प्रखंड क्षेत्र में कमला व जीवछ नदी की जलस्तर स्थिर बना हुआ है। इसके कारण बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में 24 घंटा के भीतर करीब 2 सेंटीमीटर पानी की कमी आकि गई है। बताया गया की बीते 24 घंटे में कमला व जीवछ नदी की जलस्तर में बढ़ोतरी नहीं हो पाई है। पानी कमी होने के बाद भी क्षेत्र में बाढ़ की स्थिति बरकरार बनी हुई है। 23 दिनों से उत्पन्न बाढ़ की स्थिति के बीच लोग घरों व गांव में लोग कैदी बने हुए है। दिन प्रतिदिन बाढ़ की गंभीर स्थिति के बीच जूझ रहे पीड़ितों की हालत दयनीय बनती जा रही है।

बाढ़ की त्रासदी के बीच कड़ी धुप व मूसलाधार बारिश मुसीबत बनीं हुई है। लोग बीमार हो रहे है। 23 दिनों से घरों पानी लगे रहने के कारण आशियाने ध्वस्त होने लगे है। बाढ़ के बीच नाव की समस्या सरदर्द बनी हुई है। स्थिति तह है की बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में लोगों के सामने खाने पीने के साथ मेडिकल सुविधा, शौचालय आदि की समस्याएं परेशान कर रखा। पीड़ितों की समस्याओं को देखते हुए स्थानीय प्रशासन मौन बना हुआ है।

बाढ़ पीड़िताें काे नहीं मिल रही मदद
प्रखंड की 9 पंचायत कुंडल टू, महरा, क्योटहर, हरदिया, निरपुर भरड़िया, बंगरहट्टा, वारी, सालेपुर, जहांगीरपुर आदि में बाढ़ की भयावह स्थिति से जूझ रहे लोगों की हालत नारकीय बनी हुई है। 23 दिनों से बाढ़ की त्रासदी झेल रहे लोग एक तंबू के नीचे जानवरों के साथ व्यतीत कर रहे है। नाव के आभाव में इन दलित बस्ती के लोगो का जीवन विगत 23 दिनों से मजधार में फंसा हुआ है। स्थिति यह है कि स्थानीय प्रशासन प्रक्रिया उलझकर मौन बनी हुई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें