पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गिरफ्तारी:बाइक चोरी करते रंगे हाथ धराए बदमाशों ने गल्ला कारोबारी के यहां लूट में संलिप्तता स्वीकार कर ली

समस्तीपुर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गिरफ्तार किशोर के घर से पुलिस ने लूटा गया गल्ला के अलावा छह चाकू, शटर काटने वाला कटर, मास्टर की बरामद की

शहर के गुदरीबाजार में बाइक चोरी करते रंगेहाथ धराए बदमाशों ने गल्ला कारोबारी को घायल कर लूटने की बात स्वीकार की है। गिरफ्तार किशोर शाहिल के घर से पुलिस ने लूटा गया गल्ला के अलावा छह चाकू, शटर काटने वाला कटर, मास्टर की आदि बरामद किया है। पुलिस ने इस मामले में पांच किशोर बदमाशों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार बदमाशों में गोलारोड के शाहिल के अलावा पुरानी दुर्गा स्थान का प्रिंस कुमार, जीतू कुमार, मो. इरफान व सोनू शामिल है। थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर अरुण कुमार राय ने बताया कि सभी बदमाशों की उम्र 14 से 16 वर्ष के बीच है।

सभी को रिमांड होम भेजा जाएगा। जानकारी अनुसार मंगलवार तड़के गुदरीबाजार निवासी राजीव ने सीसीटीवी में देखा कि तीन युवक उसकी बाइक चोरी कर भाग रहे हैं। जिस पर हल्ला कर उसने तीनों को पकड़ लिया। पूछताछ के बाद तीनों की पहचान शाहिल, प्रिंस व जीतू के रूप में हुई। बाद में पुलिस ने पूछताछ शुरू की तो तीनों ने बताया कि उन लोगों ने नया गिरोह बनाया है। गोलारोड के गल्ला कारोबारी असर्फी राय के दुकान में उक्त लोगों ने ही लूटपाट की है। उक्त घटना में इरफान व सोनू भी शामिल था। जिसके बाद में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। शाहिल की निशानदेही पर उसके घर से लूटा गया गल्ला बरामद हो गया। \

दो माह के दौरान शहर में कई छोटी-मोटी छिनतई की

गिरफ्तार बदमाशों ने पुलिस के समक्ष स्वीकार किया है कि गिरोह के गठन के बाद शहर व आसपास के इलाके में कई छिनतई की घटनाओं को अंजाम दिया है। पुलिस का मानना है कि छिनतई की राशि काफी कम होने के कारण कोई भी पीड़ित थाने नहीं आया। किशोरी ने कई दुकान का ताला भी तोड़ने की बात स्वीकार की है। लेकिन कोई भी दुकानदार शिकायत लेकर नहीं पहुंचे।

गिरोह का सरगना जितवारपुर का मुन्ना यादव है

पुलिस गिरफ्त में किशोरी ने बताया कि उसके गिरोह का सरगना 21 वर्षीय जितवारपुर निवासी मुन्ना यादव है। पुलिस मुन्ना की पहचान व गिरफ्तारी के लिए प्रयास शुरू कर दिया है। बताया गया है कि मुन्ना ही उक्त किशोर बदमाशों को यह बताता था कि कहां पर घटना को अंजाम देना है। अपराध के लिए लोग कहां पर जुटेंगे।

खबरें और भी हैं...