बैठक:ऋण वादों का निपटारा दोनों पक्ष के समझौते पर होगा

समस्तीपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बैंक कर्मियों से वार्ता करते न्यायिक पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
बैंक कर्मियों से वार्ता करते न्यायिक पदाधिकारी।
  • राष्ट्रीय लोक अदालत की सफलता को लेकर पदाधिकारियों की बैठक

सिविल कोर्ट परिसर में शनिवार को राष्ट्रीय एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकार के निर्देशानुसार 11 सितंबर को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत की सफलता को लेकर शनिवार को अनुमंडलीय विधिक सेवा समिति के प्रभारी अध्यक्ष सह ऐसीजेएम प्रथम आनंद अभिषेक की अध्यक्षता में बैंक के पदाधिकारियों की विशेष बैठक आयोजित हुई। बैठक का संचाल प्रभारी सचिव सह एसीजेएम तृतीय विवेक विशाल ने की। बैठक को संबोधित करते हुए एसीजेएम प्रथम आनंद अभिषेक ने बैंक अधिकारियों से कहा कि लोक अदालत में अनुमंडल अंतर्गत सभी बैंक की शाखाओं का ऋण वादों का निष्पादन दोनों पक्षों के आपसी समझौता के आधार पर किया जाएगा। इसके लिए सभी संबन्धित बैंक अधिकारी प्रचार-प्रसार करना सुनिश्चित करें। ऋणियाें काे लाेक अदालत में मिलेगा लाभ : इससे ऋणियों को लोक अदालत का लाभ मिल सके। साथ ही सभी बैंकों के अधिकारियों को सख्त संदेश देते हुए कहा कि आरबी रूल्स एवं बैंक के रेगुलेशन के तहत सभी ऋणियों को अधिक से अधिक छूट देते हुए पूर्व के लोक अदालत में किये गए निपटारों से दोगुना वादों का निपटारा इस लोक अदालत में करायें। वहीं समिति के सचिव सह एसीजेएम तृतीय विवेक विशाल ने सभी बैंक अधिकारियों को निर्देश दिया की सभी एनपी एकाउंट के ऋणियों को नोटिस करें, राष्ट्रीय लोक अदालत का बैनर अपने-अपने बैंक परिसर में लगवाएं तथा माइक के माध्यम से भी प्रचार-प्रसार करें। साथ ही उन्होंने अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष विनोद कुमार पोद्दार समीर से अनुरोध किया की अधिकाधिक न्यायालय में लंबित वादों को आपसी सुलह के आधार पर निपटारा कराने के लिए सभी अधिवक्तागणों को प्रेरित करें। साथ ही लोक अदालत के माध्यम से वादों के निपटारा होने के फायदा से भी पक्षकारों को अवगत करायें। मौके पर विश्वमोहन कुमार, दीपक कुमार, सुरेंद्र प्रसाद, वीरेंद्र कुमार शर्मा, राकेश कुमार, डीके दास, अजय कुमार, रंजीत कुमार, चंद्रशेखर आदि थे।

खबरें और भी हैं...