पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विभूतिपुर विधायक पर हमला:विधायक पर हमले में दो लोग हिरासत में, वीडियो फुटेज के आधार पर बदमाशों की हो रही पहचान

समस्तीपुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हॉस्पिटल गाेलंबर के पास रविवार को सड़क जाम कर नारेबाजी करते माकपा के कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar
हॉस्पिटल गाेलंबर के पास रविवार को सड़क जाम कर नारेबाजी करते माकपा के कार्यकर्ता।
  • शनिवार की देर रात बदमाशों के हमले में बाल-बाल बचे माकपा विधायक अजय कुमार
  • दो सुरक्षा गार्ड जख्मी

विभूतिपुर के विधायक अजय कुमार पर हुए हमले के विरोध में रविवार को माकपा कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतर कर हंगामा मचाया। कार्यकर्ता शहर में जुलूस निकाल कर कलेक्ट्रेट की ओर बढ़ रहे थे तो सुरक्षा गार्ड ने हॉस्पिटल गोलंबर के पास रोक लिया। इससे आक्रोशित हाेकर समस्तीपुर- पटना मुख्य मार्ग को करीब तीन घंटे तक जाम किया। एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो के आश्वासन पर सड़क जाम खत्म हुआ।

शनिवार की देर रात करीब 11 बजे विधायक पार्टी कार्यालय में किसान आंदोलन को लेकर तैयारी पर बैठक कर रहे थे। इसी दौरान तेज-तेज हॉर्न बजाने की आवाज पर विधायक व बॉडीगार्ड अनिल व त्रिलोकी नीचे आए। जहां बाइक सवारों ने विधायक से कहासुनी शुरू कर दी।

विवाद बढ़ा तो बदमाशों ने पत्थर बाजी कर दी। इसके बाद विधायक ने कार्यालय में भाग कर अपनी जान बचाई। पत्थरबाजी में बॉडीगार्ड अनिल गंभीर रूप से जख्मी हो गए। विधायक की स्कार्पियो को क्षतिग्रस्त कर दिया गया। दूसरे बॉडीगार्ड ने कारबाइन तानी तो बदमाश भागे।

जिले में अपराधी बेलगाम: विधायक

माकपा विधायक अजय कुमार ने कहा कि जिले में अपराधी बेलगाम हो गए हैं। उन्होंने कहा कि रात अगर उनके बॉडीगार्ड ने हमलावरों का पत्थर खुद पर नहीं लिया होता बदमाश उनकी हत्या कर सकते थे। बदमाश कार्यालय का ग्रील खोल कर अंदर तक घुस आए थे।

दो मई को भी किया गया था हमला

दो मई को जब विधायक उजियारपुर जा रहे थे तो बाइक सवार बदमाशों ने पतैली-गावपुर के बीच वाहनों को रोक लिया था। इस दौरान भी सुरक्षा गार्ड जब वाहन से कुदते हुए हथियार लेकर दौड़े तो एक बदमाश अपनी बाइक छोड़ कर फरार हो गए थे।

बोले बॉडीगार्ड
शनिवार की रात करीब 11 बजे 10-12 की संख्या में बाइक सवार कार्यालय के सामने आकर गाड़ी का हाॅर्न बजा रहे थे। इस पर विधायक के साथ नीचे उतरे तो बाइक सवार बदमाशों ने अचानक हम लोगों पर हमला बोल दिया। लोगों ने पत्थर चलाना शुरू कर दिया। इसके बाद विधायक ऊपर की ओर भागे।

विधायक को बचाने में मैं खुद जख्मी हो गया। लोगों ने विधायक की स्कार्पियो को क्षतिग्रस्त कर दिया। इस दौरान हल्ला होने पर आसपास के लोग भी जुटे और मेरे साथी सुरक्षा गार्ड ने हथियार तानी तब सभी बदमाश भागे। एक बदमाश की बाइक मौके पर ही छूट गई।

पूरे मामले की जांच की जा रही है। अभी विधायक की ओर से कोई लिखित आवेदन नहीं मिला है। तत्काल दो लोगों को हिरासत में लिया गया है। घटना का वीडियो फुटेज भी देखा जा रहा है। मामले में दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा। विधायक के बॉडीगार्ड से भी पूछताछ होगी।
-मानवजीत सिंह ढिल्लो, एसपी

खबरें और भी हैं...