• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • When The Police Were Counting On The Mufassil Police Station, The Crooks At Vikrampur Bande Were Looting At Canara Bank At That Time.

केनरा बैंक से 1.8 लाख रुपए की लूट:जिस समय मुफस्सिल थाने पर पुलिस गिना रही थी अपनी उपलब्धि उस समय विक्रमपुर बांदे में बदमाश कैनरा बैंक में कर रहे थे लूटपाट

समस्तीपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बैंककर्मी से पूछताछ कर रही पुलिस। - Dainik Bhaskar
बैंककर्मी से पूछताछ कर रही पुलिस।
  • पुलिस को चुनौती : दिन के 11 बजे ग्राहक के वेश में आए बदमाशों ने दिया घटना को अंजाम, 3 बदमाश 4 मिनट में ही लूट कर चलते बने

गुरुवार को एक ओर मुफस्सिल थाने पर पुलिस पदाधिकारी कांटैक्ट किलर की गिरफ्तारी को लेकर उपलब्धि गिना रहे थे, वहीं इसी थाने के विक्रमपुर बांदे गांव में बदमाशों ने हथियार के बल पर केनरा बैंक से 1.80 लाख रुपए लूट लिए। नकाबपोश तीन बदमाशों ने दिन के 11 बजे लूट की इस घटना को अंजाम दिया। घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश चांदोपट्‌टी होते हुए मुसरीघरारी की ओर फरार हो गए। यह घटना बैंक के सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है। पुलिस का कहना है कि बैंक में एक ही कैमरा काम कर रहा था जिससे साफ तस्वीर नहीं आई है। काउंटर के सामने का कैमरा खराब है। बैंक का सायरन भी खराब था, जिस कारण बैंक के बाहर लोगों को इसकी भनक नहीं लगी।

आसपास के लोगों को घटना की जानकारी तब हुई जब बदमाश लूटकांड को अंजाम देने के बाद फरार हो चुके थे। घटना की सूचना पर सदर डीएसपी प्रीतिश कुमार के नेतृत्व में नगर व मुफस्सिल थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। उधर, एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने बताया कि लुटेरे की तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। हालांकि तीनों बदमाश चेहरे को ढंके हए नजर आए। पुलिस की टीम उसकी पहचान में लगी है। जल्द मामले का खुलासा कर लिया जाएगा। एसपी ने कहा कि बैंक में सुरक्षा के पहलुओं की काफी अनदेखी की गई है। बैंक ग्रामीण क्षेत्र में है बावजूद वहां एक भी सुरक्षा गार्ड नहीं है। यहां तक कि बैंक का सायरन भी खराब है।

10-12 ग्राहक पहले से थे बैंक में

दिन के 11.03 बजे एक-एक कर बैंक में 20-25 वर्ष के तीन बदमाशों ने प्रवेश किया। एक बदमाश गेट पर खड़ा हो गया। दो बदमाशों ने अंदर आते ही पिस्टल तान दी। बैंक के काउंटर के अंदर शाखा प्रबंधक रविंद्र कुमार समेत चार कर्मी कार्य कर रहे थे। अचानक बदमाशों द्वारा पिस्टल ताने जाने के कारण कर्मी काफी डर गए। इस दौरान बैंक के अंदर जमा व निकासी के लिए खड़े करीब 12-15 ग्राहक भी दुबक गए। दोनों बदमाश काउंटर में रखे 1.80 लाख रुपए लेकर बैंक का ग्रिल खींचते हुए बाहर निकल गए। शाखा प्रबंधक रविंद्र कुमार ने बताया कि 12-15 की संख्या में ग्राहकों के रहने के बावजूद किसी ने भी प्रतिकार नहीं किया।

डीएसपी व इंस्पेक्टर ने की चारों कर्मियों से पूछताछ

सदर डीएसपी के अलावा इंस्पेक्टर विक्रम आचार्या, अरुण कुमार राय ने चारों बैंक कर्मियों से पूछताछ की। चारों कर्मियों ने एक जैसा ही बयान दिया। पुलिस की एक टीम बैंक के सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है। हाथ में पिस्टल लिए मुंह में गमछा बांधे बदमाश पिस्टल लहराते दिख रहे हैं।

सुपारी किलर मो. चांद को मगरदही पुल के पास से पुलिस ने दबोचा

सुपारी किलर मो. चांद को जिला एसआईटी ने शहर के मगरदही घाट के पास लोडेड देसी कट्‌टा के साथ गिरफ्तार कर लिया। चांद शहर की बंगाली टोली शेखटोली मोहल्ला का रहने वाला है। मो. चांद पर सिर्फ मुफस्सिल थाने में सुपारी लेकर हत्या करने के आठ मामले दर्ज हैं। इसके अलावा शहर के वकील विजय कुमार गुप्ता की हत्या का मामला रेल थाने में दर्ज है। इसके अलावा अन्य थानों में सुपारी लेकर हत्या का मामला चांद पर चल रहा है। मुफस्सिल थाने पर संवाददाता सम्मेलन में सदर डीएसपी प्रीतीश कुमार ने बताया कि उसे मगरदही घाट के पास पकड़ा गया। डीएसपी ने बताया कि मो. चांद ने स्वीकार किया है कि गत वर्ष सोनवर्षा चौक पर शशि राय के कहने पर मनमोहन झा को एक घर में घुस कर शरीर में ऊपर से नीचे तक दस गोली मारी थी।

खबरें और भी हैं...