पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लापरवाही:12:30 बजे तक अनुमंडलीय अस्पताल के प्रशासनिक कार्यालय में लटके हुए थे ताले

सिकरहना15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गाड़ी नहीं पहुंचने के कारण एंबुलेंस से 1 बजे के बाद निकली कोविड जांच टीम

कोरोना संक्रमित मरीजों की जांच को लेकर जिला प्रशासन काफी सजग है। लेकिन अनुमंडल स्तर पर कोताही बरती जा रही है। दिन के 12:30 तक प्रशासनिक कक्ष में ताला लटका रहा। जांच के लिए जाने वाले कर्मी के लिए वाहन व किट उपलब्ध नहीं हो सका। बाद में कर्मियों को ऐंबुलेंस से भेजा गया। जिला प्रशासन ने इसको लेकर ढाका अनुमंडलीय अस्पताल में 70 बेड का एक डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर भी चालू कर दिया गया है। पर यहां प्रतिनियुक्त किए गए अधिकारी व कर्मी रविवार को काफी लापरवाह दिखे।

दिन के 12.30 बजे तक लटके हुए थे ताले, जांच टीम की गाड़ियां भी थी नदारद| केंद्र का आलम यह है कि रविवार को दिन के 12.30 बजे तक डीसीएचसी के प्रशासनिक कक्ष में ताला लटका हुआ था। जांच के लिए क्षेत्र में जाने वाले दो जांच दल के चिकित्सक व कर्मी केंद्र के पास खड़े कार्यालय खुलने का इंतजार कर रहे थे। पर वहां न कोविड नोडल पदाधिकारी प्रदीप कुमार, न बीएचएम रविभूषण मिश्र और न एमओआईसी डाॅ. एन के साह ही उपस्थित थे। जांच टीम को उपलब्घ कराई गई गाडियां भी नदारद थी।

पूछने पर पता चला कि थोड़ी देर रुकिए सभी आते ही होंगे। पत्रकार के पहुंचने की सूचना पर बाद में कुछ कर्मियों ने इधर-उधर से व्यवस्था कर जांच टीम के सदस्यों को अस्पताल के एम्बुलेंस से ही क्षेत्र के लिए विदा किया गया। गौरतलब हो कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार पर रोक लगाने के उद्देश्य से विभाग ने सभी स्वास्थ्य कर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी है। बावजूद इसके अधिकारियों व कर्मियों की यह स्थिति दिखी। एंटीजन किट व सेनेटाइजर की कमी के कारण जांच हो रहा प्रभावित| कुछ चिकित्सकों ने बताया कि रैपिड एंटीजन जांच किट की कमी के कारण संक्रमण जांच का काम काफी प्रभावित हो रहा है। इस बावत पूछने पर स्टोर कीपर कल्याण झा ने बताया कि रविवार को जिला कार्यालय से मात्र 200 किट ही मिल पाया है।

उसे सौ-सौ के हिसाब से दोनों टीमों को देकर क्षेत्र में भेजा जा रहा है। पहले से 20 किट यहां बचे थे, उससे अस्पताल परिसर में जांच किया जाएगा। फिर कल किट आएगा तो जांच होगा नहीं तो वह कार्य बाधित रहेगा। अस्पताल में हैंड सेनेटाइजर की भी भारी कमी है। बाजार से खरीदकर कार्य चलाया जा रहा है। स्वास्थ प्रशिक्षक सह नोडल पदाधिकारी प्रदीप कुमार ने बताया कि गाड़ियों के पेमेंट समय से नहीं होने के कारण ही वे कोताही बरत रहे हैं। मैं अपने किसी निजी आवश्यक कार्य से मोतिहारी में ही हूं।अस्पताल उपाधीक्षक डाॅ. एन के साह ने बताया कि किट काफी कम मात्रा में उपलब्ध हो पा रहा है। इस कारण ही देरी हुई है। जब किट ही नहीं रहेगा तो गाड़ी वाला आकर क्या करेगा। वैसे अधिकांश पंचायतों में जांच का कार्य पूरा कर लिया गया है।

निशुल्क मेडिकल शिविर का किया गया आयोजन

संग्रामपुर| संग्रामपुर प्रखण्ड के जल्हा सिसवनिया टोला गांव में नंदकिशोर सिंह के दरवाजे पर जगन्नाथ सेवा संस्थान के सौजन्य से दियारा विकास मंच के अध्यक्ष अरुण तिवारी के द्वारा रविवार को निःशुल्क मेडिकल शिविर का आयोजन किया गया। जिसका उद्घाटन समाजसेवी संत प्रसाद गुप्ता,डॉ. ओपी तिवारी, डॉ सरिता कुमारी व दक्षिणी बरियरिया के सरपंच पप्पू मिश्रा के द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। शिविर में क्षेत्रभर से विभिन्न रोगों की जांच कराने आए लोगों की जांच के साथ दवाइयां भी दी गई। चिकित्सक ओपी तिवारी ने व डॉ. सरिता कुमारी ने बताया कि शिविर में लगभग तीन सौ से अधिक लोगों की जांचकर दवाइयां वितरित की गई हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें