पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बाढ़ की दस्तक:जिले में आई बाढ़ से 19 दिन में 15 लोगों की हुई मौत, दो अब तक लापता, खोजबीन जारी

सीतामढ़ी19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हरिहरपुर गांव में शव की तलाश करने जाती एसडीआरएफ की टीम। - Dainik Bhaskar
हरिहरपुर गांव में शव की तलाश करने जाती एसडीआरएफ की टीम।
  • बेलसंड में 4, पुपरी में दो, सोनबरसा में 1, सुरसंड में दो, सुप्पी में दो, रीगा में 1, नानपुर में 1, बाजपट्टी व बथनाहा में 1-1 मौत

जिले में प्रलयंकारी बाढ़ के दस्तक देने के कारण डूबकर मौत होने वाले लोगों की संख्या में इजाफा हो रहा है। बाढ़ के कारण जिले में प्रतिदिन एक से चार की संख्या में लोगों की डूबकर मौत हो रही है। अगर आंकड़ों पर गौर करें तो पिछले 19 दिन में बाढ़ के पानी में डूबने से 15 लोगों की मौत हो गई। जबकि सोनबरसा में दो भाई-बहन तेज बहाव में डूबकर लापता हो गए। हालांकि एसडीआरएफ की टीम लापता हुए बच्चों की खोज कर रही है।

लेकिन, डूबने के 18 घंटा बीत जाने के बाद भी दोनों लापता किशोर की अब तक कोई सुराग नहीं मिल सका है। डूबने से सबसे अधिक मौत बेलसंड थाना क्षेत्र में हुई है। इसमें चार लोगों की मौत हुई है। इसके अलावा पुपरी में दो, सोनबरसा में तीन, सुरसंड में दो, सुप्पी में दो, रीगा में एक, नानपुर में एक, बाजपट्टी में एक एवं बथनाहा में एक डूबने से हुई थी।

झीप नदी में डूबकर लापता हुए दो भाई-बहन का अब तक पता नहीं
सोनबरसा| थाना क्षेत्र के पुरंदाहा राजबाड़ा पश्चिम पंचायत के हरिहरपुर गांव स्थिति झीम नदी को पार करने के दौरान डूबकर लापता हुए भाई-बहन का शव का अब तक कोई सुराग नहीं मिल सका है। लापता भाई-बहन की पहचान हरिहरपुर गांव निवासी केदार महतो के 8 वर्षीय पुष्पा कुमारी व 6 वर्षीय दीपेश कुमार के रूप में की गई है। ग्रामीणों ने बताया कि मंगलवार की शाम दोनों भाई-बहन खेत में कार्य कर रहे पिता के लिए पानी लेकर जा रहा है।

जाने के क्रम में झीम नदी को पार करने के दौरान पैर फिसलकर डूबकर भाई-बहन लापता हो गया। घटना की सूचना पर सीओ अशोक कुमार के निर्देश आलोक में एसडीआरएफ के टीम बुधवार की सुबह से बच्चों की तलाश कर रही है। लेकिन, खबर लिखे जाने तक टीम को कोई सफलता नहीं मिला है।

लापता हुए बच्चों की मां सोनिया देवी व पिता केदार महतो का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। स्थानीय विधायक गायत्री देवी द्वारा परिजनों को ढांढस बधाया जा रहा है। विधायक ने कहा कि हमसे जो भी मदद होगी, हम मदद करने के लिए तैयार हैं।

  • अभिभावक अपने बच्चों पर विशेष ध्यान दें। बाढ़ प्रभावित इलाकों में जाने से बचाएं। साथ ही नदी व तालाब किनारे जाने से बचें। ताकि कोई डूबने से मौत का शिकार ना हो। उन्होंने आम लोगों से ज्यादा जरुरी होने पर ही बाढ़ प्रभावित इलाकों में सावधानी के साथ जाने का आग्रह किया है। - शंशिकांत प्रकाश, आपदा प्रबंधक पदाधिकारी

जमुनिया मठ के पास तालाब में डूबे किशोर के शव को एसडीआरएफ की टीम ने किया बरामद सुप्पी| थाना क्षेत्र के जमुनिया मठ स्थित तालाब में डूबकर लापता हुए किशोर के शव को एसडीआरएफ की टीम ने बुधवार को 11 बजे बरामद कर लिया। शव की पहचान मोहनीमंडल गांव निवासी 14 वर्षी मनोज कुमार के रुप में की गई है। थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार ने मामले की छानबीन कर शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम कराने के लिए सदर अस्पताल में भेज दिया। यहां पोस्टमार्टम करने के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया। ग्रामीणों ने बताया कि मंगलवार को स्नान करने के दौरान मनोज डूबकर लापता हो गया।

19 दिनों में बाढ़ के पानी में डूबने से हुई मौत

  • 17 जून को बेलसंड के चैनपुर घाट पर स्नान करने के दौरान डूबने से परराही गांव निवासी रेहान अंसारी, साहिल, आजीद एवं महताब की मौत हुई थी।
  • 24 जून को पुपरी के कमला घाट पर स्नान करने के डूबने से बाजपट्टी के बेलपुर टोल निवासी करण सहनी एवं रौशन कुमार पंडित की मौत हुई थी।
  • 28 जून को सुप्पी के रामपुर कंड नदी में स्नान करने के दौरान डूबने से मनियारी खरहिया टोल निवासी नंदलाल महतो की मौत ह़ुई थी।
  • 1 जुलाई को नानपुर के बासोपट्टी गांव स्थित दलका नदी में स्नान करने के दौरान डूबने से बासोपट्टी गांव निवासी मो. सब्बीर की मौत हुई थी।
  • 4 जुलाई को डूबने से सुरसंड के मलाही गांव निवासी विवेक कुमार, अमना गांव निवासी सुरेश कुमार, रीगा के गोट गांव निवासी गांव निवासी करण कुमार एवं बथनाहा के ब्रह्रापुरी गांव निवासी सुनील कुमार की मौत हुई थी।
  • 5 जुलाई को सोनबरसा के पिपरा घाट पर बाढ़ के पानी में डूबने से पिपरा गांव निवासी काजल कुमार की मौत हुई थी।
  • 6 जुलाई को डूबने से सुप्पी के मोहनीमंडल गांव निवासी मनोज पासवान, नानुपर के बहुरार गांव निवासी अमीरी राय, बाजपट्टी के बसौल गांव निवासी मो. हबीब, बथनाहा के हरिहर पुर गांव निवासी पुष्पा कुमारी व दीपेश कुमार की मौत हो गई थी।
खबरें और भी हैं...