परेशानी:बीआएबीयू में कल से पार्ट वन की परीक्षा सभी कॉलेजों में नहीं पहुंचे एडमिट कार्ड

सीतामढ़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • परीक्षा नियंत्रक बोले- एडमिट कार्ड डाउनलोड करने का लिंक प्राचार्यों को भी दिया गया

बीआरएबीयू में टीडीसी पार्ट-वन की परीक्षा शुक्रवार से होगी, लेकिन अभी सभी कॉलेजों में एडमिट कार्ड नहीं भेजा सका। बुधवार देर शाम तक विवि की ओर से एडमिट कार्ड प्रिंट कर दूरदराज के कॉलेजों में भेजने की प्रक्रिया चलती रही। शहर समेत आसपास के कॉलेजों में गुरुवार की सुबह एडमिट कार्ड भेजे जाएंगे। यूएमआईएस से नामांकन के बाद ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म भरने के बाद भी स्टूडेंट्स को अॉनलाइन एडमिट कार्ड डाउनलोड करने का विकल्प नहीं मिला है। छात्र मुकेश कुमार ने बताया, विवि से एडमिट कार्ड डाउनलोड करने का विकल्प दिया जाना चाहिए।

विवि को सिस्टम अपडेट करने की जरूरत है। परीक्षा नियंत्रक डॉ. संजय कुमार ने बताया, पूर्वी व पश्चिम चंपारण, सीतामढ़ी समेत अन्य दूरदराज के कॉलेजों के स्टूडेंट्स का एडमिट कार्ड विवि के स्तर से प्रिंट कराकर भेजा गया है। उन्होंने बताया कि गुरुवार की सुबह 7 बजे तक सभी कॉलेजों को एडमिट कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा। वहीं, सभी प्राचार्यों को एडमिट कार्ड डाउनलोड करने का लिंक भेजा गया है। वहां से भी प्राचार्य एडमिट कार्ड डाउनलोड कर स्टूडेंट्स को उपलब्ध करा सकते हैं। परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि सत्र 2019-22 के तहत टीडीसी पार्ट वन की परीक्षा में करीब 1.30 लाख स्टूडेंट्स शामिल होंगे।

अब तक 4 हजार से अधिक फॉर्म में सुधार किया गया
अॉनलाइन परीक्षा फॉर्म भरने में काफी संख्या में स्टूडेंट्स ने गलती की है। इस कारण कई छात्र-छात्राओं का एडमिट कार्ड डाउनलोड नहीं हो रहा था। प्राचार्यों की ओर से संपर्क करने के बाद विवि परीक्षा विभाग की ओर से बुधवार देर शाम तक 4 हजार से अधिक फॉर्म में सुधार किया गया। परीक्षा नियंत्रक ने बताया, किसी तकनीकी परेशानी के लिए कॉलेज या स्टूडेंट्स विवि से संपर्क कर सकते हैं।
ओएमआर भरने में परेशानी दूर करने के लिए विवि ने जारी किया लिंक
परीक्षा नियंत्रक ने बताया, ओएमआर शीट पर होने वाली परीक्षा में पूरी जानकारी भरने के लिए विवि की ओर से लिंक जारी किया गया है। स्टूडेंट्स इसे https://youtu.be/iDkjT4903N4 पर जाकर वीडियो के माध्यम से ओएमआर शीट भरने की प्रक्रिया समझ सकेंगे। जिले में परीक्षा के लिए 10 और कुल 38 केंद्र बनाए गए हैं।

​​​​​​​

खबरें और भी हैं...