पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कमीशनखोरी पर ग्रामीण नाराज:बेलाव वोट मांगने पहुंचे मुखिया को खदेड़ दिया

सीतामढ़ी18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सोमवार को बेलाव पंचायत के पनयपुर गांव मे मुखिया पिंटू रविदास एवं उनके कार्यकर्ताओं को काफी फजीहत झेलनी पड़ी। वर्तमान मुखिया पिंटू रविदास जैसे ही अपने कार्यकर्ताओं के साथ पनयपुर गांव वोट मांगने पहुंचे, वैसे ही ग्रामीणों ने कीचड़ से बजबजा रही गली को दिखाकर सवाल पूछने शुरू कर दिए। पिंटू रविदास जनता के बीच जाकर वोट मांग रहे थे। इस दौरान ही लोगों का गुस्सा भड़क उठा और वे मुखिया से उनके काम का हिसाब मांगने लगे। साथ ही यह भी पूछा कि जब हमारे गांव में काम ही नहीं किया तो गांव में कैसे घुस गए।

जिसका एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। वीडियो में पनयपुर गांव के ग्रामीण रंजय यादव द्वारा पूछा गया कि आपने अपने पांच साल के कार्यकाल में हमारे गांव के लिए क्या कार्य किया है। इस गली को बनाने के लिए फण्ड पास हो गया, लेकिन उस राशि को आपने खर्च करने की बजाय उस पर कुंडली मारे बैठे है। जिसकी वजह से यहां की गलियों की स्थिति नरक समान हो गयी है। वायरल वीडियो में इस तरह की बात करते हुए देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि इन जनप्रतिनिधियों की आत्मा पूरी तरह से मर चुकी है और ये लोग कमीशन के चक्कर मे गांव के विकास में बाधा डाले हुए है। बहरहाल देखने वाली बात होगी कि जनता ऐसे कमीशन खोर प्रतिनिधियों को फिर से मौका देती है या अपने गांव के विकास के लिए किसी साफ छवि वाले को अपना जनप्रतिनिधि चुनती है।

कमीशन न दिया, तो रुका

इस बाबत पिंटू मुखिया तो ज्यादा जवाब नहीं दे पाये, किन्तु उनके कर्ता-धर्ता पूर्व मुखिया अनिल कुमार ने कहा की काम के बदले कमीशन नहीं देने के कारण काम रुक गया। उन्होंने खुद को पाक साफ बताते हुए कहा कि आप बीडीओ, पंचायत सेवक, ओवरसियर, इंजीनियर को 28 प्रतिशत में मैनेज करके काम करवा लीजिये। हम अपना कमीशन छोड़ देंगे।

खबरें और भी हैं...