15 पैक्स अध्यक्ष पर अब तक नहीं हुई FIR:सीतामढ़ी में धान की खरीद के लिए सहकारिता बैंक से एडवांस लिया, 4 साल से चुका नहीं पाए

सीतामढ़ी5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक तस्वीर।

सीतामढ़ी के 32 पैक्स अध्यक्ष पर 3 करोड़ 75 लाख 45 हजार 972 रुपया बकाया है। इसमें करीब 25 लाख रुपया वसूली कर ली गई है। पैक्स अध्यक्ष द्वारा जमा नहीं करने पर FIR का आदेश है। लेकिन अभी तक मात्र 17 पैक्स पर ही FIR हुई है। अभी कुल 15 ऐसे पैक्स अध्यक्ष है, जिन पर FIR नहीं हुई है। हालांकि, मामले को लेकर अधिकारी पंचायत चुनाव का हवाला दे दिया है। उनका कहना है कि अभी वर्तमान में सभी कर्मी पंचायत चुनाव में लगे हुए है। इसके कारण अभी कारवाई नहीं हुई है।

MD मुकेश कुमार ने कहा की हाल में तीन लोगों पर FIR दर्ज की गई है। दो तीन पैक्स अध्यक्षों ने जल्द जमा करने का आश्वासन दिया है। जिन्हें 10 से 15 दिन की मोहलत दे दी गई है। अगर इस बीच में कोई राशि जमा नही करेंगे तो उन पर FIR दर्ज की जाएगी। बता दें कि धान की खरीद के लिए सहकारिता बैंक से अग्रिम लेकर चुकता नहीं करने वाले विभिन्न प्रखंडों के 15 पैक्स अध्यक्षों के खिलाफ अब तक FIR दर्ज नहीं कराई जा सकी है। बैंक के MD द्वारा काफी पूर्व संबंधित शाखा प्रबंधकों को FIR दर्ज कराने का आदेश दिया गया था। यह कार्रवाई करने में कतिपय कारणों से शाखा प्रबंधक परहेज कर रहे है।

चार-पांच वर्षों से बकाया है राशि

आरोपित पैक्स अध्यक्षों पर चार-पांच वर्षों से बैंक का पैसा बकाया है। यानी कुल 32 पैक्सों के यहां दो करोड़ 75 लाख 45 हजार 972 रुपया बकाया है। यह बकाया और अधिक था। बैंक की सख्ती के बाद कुछ पैक्सों द्वारा 12 मार्च 21 से 7 दिसंबर 21 के बीच 25 लाख रूपया जमा कराया गया है। अब बैंक को उम्मीद है कि पैक्स अध्यक्ष बकाया राशि को जमा कर सकते हैं।

इन पर होनी है FIR

जिन पैक्सों के खिलाफ FIR की कार्रवाई होनी है, उनमें डुमरा प्रखंड के सिंगरहिया पैक्स, मेथौरा, बेरवास, पुनौरा पूर्वी, रामपट्टी, बथनाहा प्रखंड के मौदह, सुप्पी प्रखंड के अख्ता उत्तरी, घरवारा, बैरगनिया प्रखंड के अख्ता पश्चिमी चकवा, पुपरी प्रखंड के हरपुरवा, रामनगर बेदौल, सोनबरसा प्रखंड के मधेसरा व विशनपुर गोनाही पैक्स शामिल हैं। बैंक के एमडी ने इस संबंध में डीएम को पत्र में जानकारी भी दी है कि शाखा प्रबंधक चुनाव ड्यूटी में व्यस्त है। चुनाव खत्म होते ही FIR की कार्रवाई कर दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...