हल्की बूंदाबांदी हुई:जिले में तीन दिनों में बारिश की संभावना, बढ़ेगी ठंड

सीतामढ़ी14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दाेपहर में निकली धूप, लेकिन सूर्य बादलों के बीच ढका रहा। - Dainik Bhaskar
दाेपहर में निकली धूप, लेकिन सूर्य बादलों के बीच ढका रहा।
  • ठंड गेहूं के लिए लाभकारी, सरसों व दलहन पर लाही और आलू पर झुलसा रोग का खतरा

जिले में ठंड का प्रभाव जारी है। आसमान में बादल छाये रहे। सुबह से ही धूप व छाव का सिलसिला जारी रहा। वहीं कुछ देर हल्की बूंदा बूंदी भी हुई। जिससे मौसम के तापमान में भी उतार-चढ़ाव जारी रहा। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 23 डिग्री रहा वहीं न्यूनतम तापमान 12 डिग्री रहा। दिन भर हल्की पुरवा हवा चलती रही, सुबह के समय हल्का कुहासा के साथ पुरवा हवा से मौसम में कनकनी रही। मौसम वैज्ञानिक रंधीर कुमार ने बताया कि अगले पांच दिनों में पुरवा व पछुआ हवा 5 से 6 किमी की गति से चलेगी। इसके साथ ही आसमान में बादल छाये रहेंगे, धूप भी कुछ देर के लिए निकलेगी तथा हल्की बूंदा बूंदी होने का आसार हैं। जिससे अधिकतम तापमान दो डिग्री घटकर 21 डिग्री व न्यूनतम तापमान 10 डिग्री तक पहुंचने की संभावना है।

ठंड में सभी उम्र के लोगों को सर्तक रहने की जरूरत : डॉ. प्रशांत
जनवरी में प्रवेश के साथ ही ठंड का प्रभाव बढ़ने लगा है। ऐसे मौसम में सभी उम्र के लोगों को सर्तक रहने की जरूरत है, विशेषकर बच्चे, बुजुर्ग व बीमार लोगों पर ध्यान देना अधिक जरूरी है। डॉ. प्रशांत कुमार सिंह ने बताया कि ठंड के दौरान सबसे पहली जरूरत होती है, अधिक से अधिक गर्म व ताजा खाना के साथ ही गर्म पानी सेवन करना। वहीं जिला कृषि पदाधिकारी अनिल कुमार यादव ने बताया कि ऐसा मौसम विशेषकर गेहूं की फसल के लिए लाभकारी है। वर्तमान में तापमान की गिरावट व ध्ूप भी निकल रही है। इससे आलू में झुलसा व तेलहन और दलहन में लाही की संभावना है।

खबरें और भी हैं...