पंचायत चुनाव:रुन्नीसैदपुर की मतगणना आज होगी, इंजीनियरिंग कॉलेज में सुबह आठ बजे से हाेगी गिनती, प्रशासनिक तैयारी पूरी

सीतामढ़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मतगणना से पूर्व कर्मियाें काे निर्देश देते डीएम व एसपी। - Dainik Bhaskar
मतगणना से पूर्व कर्मियाें काे निर्देश देते डीएम व एसपी।
  • 4216 प्रत्याशियों के भाग्य का हाेगा फैसला, मतगणना टेबल पर सीसीटीवी से निगरानी, सुबह 7 बजे से प्रत्याशी व अभिकर्ता को मतगणना कक्ष में प्रवेश की होगी अनुमति

पंचायत चुनाव के अंतिम चरण में जिले के रुन्नीसैदपुर प्रखंड में मतदान के बाद मंगलवार 14 दिसंबर को मतगणना की जाएगी। इसके लिए सीतामढ़ी इंस्टीच्यूट आॅफ टेक्नोलॉजी (इंजीनियरिंग कॉलेज) गोसाईपुर में मतगणना केंद्र बनाया गया है। जहां मंगलवार की सुबह 8 बजे से वोटों की गिनती शुरू होगी। रुन्नीसैदपुर के 4216 प्रत्याशी के भाग्य का फैसला इंजीनियरिंग कॉलेज में मतगणना के दौरान होगा। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। रुन्नीसैदपुर प्रखंड के विभिन्न पंचायत पद के लिए 18 टेबल लगाए गए है। सभी टेबल पर सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की व्यवस्था की गई है। जिला निर्वचन पदाधिकारी सह डीएम सुनील कुमार यादव ने मतगणना केंद्र की तैयारियों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को कई निर्देश दिए।
लगाए गए 18 टेबल, आठ बजे से होगी गिनती, प्रोटोकॉल का पालन भी होगा
पारदर्शिता के साथ मतगणना का कार्य पूर्ण कराने को लेकर 18 टेबल लगाए गए है। मतगणना कक्ष में निगरानी के लिए सीसीटीवी लगाया गया है। मतो की गिनती मंगलवार की सुबह 8 बजे से शुरू की जाएगी। वहीं कोरोना संक्रमण को देखते हुए मतगणना केंद्र परिसर की साफ-सफाई के साथ सैनिटाइजेशन की व्यवस्था की गई है। मतगणना सेंटर पर थर्मल स्कैनिंग हैंड सैनिटाइज करने तथा मास्क का प्रयोग सुनिश्चित कराने का सख्त निर्देश दिया गया है। मतगणना केंद्र परिसर में मेडिकल टीम की प्रतिनियुक्ति की गई है। ताकि आवश्यकता पड़ने पर प्राथमिक उपचार किया जा सके।

थ्री लेयर में है सुरक्षा की व्यवस्था जुलूस निकालने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी

सीतामढ़ी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, गोसाईपुर स्थित मतगणना केंद्र पहुंचे डीएम सुनील कुमार यादव ने मतगणना केंद्रों का भ्रमण करते हुए तैयारियों की समीक्षा की। इस दौरान प्रतिनियुक्त किए गए दंडाधिकारियों व पुलिस पदाधिकारियों को कई निर्देश दिया गया। कहा कि सुरक्षा को लेकर थ्री लेयर में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए है। कहा कि कोई भी मतगणना को लेकर सभी प्रतििनयुक्त पदाधिकारी समय से अपने कर्तव्य स्थान पर पहुंचेंगे। इसमें किसी भी तरह की कोताही पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। प्रत्याशी व उनके अभिकर्ताओं को सुबह 7 बजे से मतगणना केंद्र में प्रवेश की अनुमति दी गई है। कहा कि राज्य निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देश के आलोक में प्रत्याशी, उनके अभिकर्ता सहित किसी को भी (वरीय अधिकारी को छोड़कर) मतगणना केंद्र में मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं होगी।

इंजीनियरिंग कॉलेज पथ पर यातायात रहेगा बाधित
मतगणना को लेकर विश्वनाथपुर टू लेन-इंजीनियरिंग कॉलेज पथ पर मंगलवार को यातायात पूरी तरह बाधित रहेगा। इसके लिए जगह जगह दंडाधिकारी के साथ पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। ताकि मतगणना का कार्य प्रभावित नहीं हो सके। इस पथ से होकर केवल पास वाले वाहन व अधिकारियों के वाहन के प्रवेश की अनुमति दी गई है। मतगणना केंद्र परिसर में किसी भी तरह की आपत्तिजनक सामान ले जाने पर प्रतिबंध लगाया गया है।

तलाशी के बाद दिया जाएगा प्रवेश मतगणना को लेकर अलर्ट है पुलिस

मतगणना केंद्र में प्रवेश से पहले तलाशी ली जाएगी। इसके लिए मेटल डिटेक्टर की व्यवस्था की गई है। मतगणना परिसर में धुम्रपान, तम्बाकू, बीड़ी, सिगरेट, माचिस का प्रयोग करने वाले लोगों के पकड़े जाने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मतगणना परिसर में सेलफोन, मोबाइल, वॉकी-टॉकी व अन्य आपत्तिजनक सामग्री ले जाने पर पाबंदी लगा दी गई है। मतों की गणना के लिए प्रत्येक मतगणना टेबल पर एक-एक मतगणना पर्यवेक्षक, एक-एक मतगणना सहायक तथा एक-एक गणना माइक्रो प्रेक्षक भी नियुक्त किए गए है। इसके अतिरिक्त सभी हॉल में एआरओ के टेबल पर दो दो एडिशनल काउंटिंग स्टाफ भी प्रतिनियुक्ति की गई है।

कहीं भी नहीं निकाला जाएगा विजयी जुलूस
मतगणना को लेकर धारा 144 लगाया गया है। किसी भी स्थिति में विजयी प्रत्याशियों द्वारा किसी तरह का विजयी जुलूस नहीं निकाला जाएगा। इसका उल्लंघन किए जाने पर कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। अभ्यर्थी, चुनाव अभिकर्ता एवं गणन अभिकर्ता के लिए मतगणना केंद्र पर अलग से प्रवेश की व्यवस्था की गई है। मतगणना अभिकर्ता बैरिकेडिंग मार्ग से संबंधित मतगणना हॉल में प्रवेश करने की अनुमति दी गई है।
लाउड स्पीकर से हाेगी मताें की घाेषणा
सीतामढ़ी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (इंजीनियरिंग कॉलेज) में सुबह 8 बजे से मतगणना का काम शुरू होगा। सभी टेबल को सीसीटीवी कैमरे से लैस किया गया है। वहीं प्रत्याशियों के अपनी पंचायत के बारी आने पर मतगणना कक्ष में आने की घोषणा ध्वनि विस्तार यंत्र से की जाएगी। इससे परेशानी नहीं हो। ​​​​​​​

खबरें और भी हैं...